• 6 जून तक यूजी में चयनित शिक्षकों को नियुक्ति पत्र जारी करने समय सीमा तय की गई है

दैनिक भास्कर

May 20, 2020, 07:51 PM IST

गिरीश उपाध्याय. भोपाल । कोरोना वायरस (कोविड-19) के चलते पूरा देश लॉकडाउन की स्थिति से गुजर रहा है। ऐसे में मध्यप्रदेश के स्कूलों में शिक्षक भर्ती के लिए क्वालिफाइ हो चुके हजारों उम्मीदवार परेशान हैं। यह उम्मीदवार उत्तरप्रदेश सरकार की तरह मप्र में कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं,क्योंकि उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों में सहायक अध्यापकों के 69 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश जारी कर दिए हैं। इसका पूरा शेड्यूल जारी कर दिया है। 

6 जून तक यूजी में चयनित शिक्षकों को नियुक्ति पत्र जारी करने समय सीमा तय की गई है। लेकिन मप्र में शिक्षकों की अटकी भर्ती प्रक्रिया को दोबारा शुरू करने के लिए लोक शिक्षण संचालनालय कोविड-19 की स्थिति सामान्य होने का इंतजार कर रहा है। शिक्षक भर्ती के लिए क्वालिफाइड उम्मीदवार आनंद मिश्रा का कहना है कि वे लगातार मांग कर रहे हैं कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर सत्यापन कराया जाए और अंतिम सिलेक्शन लिस्ट जारी कर जल्द लिस्ट जारी की जाए। 

यूपी में 12 मई को रिजल्ट और 13 मई को जारी कर दिया शेड्यूल

आनंद ने बताया कि यूपी में 6 जनवरी 2019 को सहायक अध्यापकों के लिए टेस्ट हुआ था। प्रदेश सरकार ने कटऑफ बदल दिया था। इसलिए यह लखनऊ हाईकोर्ट चला गया था। इस मामले में अंतिम फैसला आने के बाद एक सप्ताह बाद 12 मई को िरजल्ट जारी कर दिया गया है। राज्य शासन ने 13 मई को काउंसलिंग, दस्तावेज सत्यापन और ज्वाइनिंग कराने का शेड्यूल जारी कर दिया है। इसके तहत चयनित शिक्षक 3 से 6 जून तक ज्वाइन करेंगे। इसकी संख्या करीब 69 हजार है। शिक्षकों की यह संख्या मप्र में उच्च माध्यमिक शिक्षक और माध्यमिक शिक्षण की भर्ती से दो गुने से अधिक हैं। 

मध्यप्रदेश में यहां अटकी है प्रक्रिया

स्कूल शिक्षा विभाग के सरकारी स्कूलों में उच्च माध्यमिक शिक्षक और माध्यमिक िशक्षक भर्ती के लिए सितंबर 2018 में पात्रता परीक्षा कराने पीईबी ने विज्ञापन जारी किया। एक विषय को छोड़कर उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा का रिजल्ट 28 अगस्त 2019 को और माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा का रिजल्ट 29 सितंबर 2019 को आया। लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा आयोजित आॅनलाइन काउंसलिंग के तहत लॉकडाउन शुरू होने तक प्रोविजनल सिलेक्शन व वेटिंग लिस्ट जारी की जा चुकी है। सिर्फ सत्यापन व स्कूल अलॉटमेंट प्रक्रिया शेष है।  उधर, आदिमजाति कल्याण विभाग में  भी उच्च माध्यमिक शिक्षक के 2220 पदों पर भर्ती होनी है। लेकिन, यहां पर सिर्फ ईओडब्ल्यूएस की प्रक्रिया ही हुई है। वहीं माध्यमिक शिक्षक भर्ती की काउंसलिंग का शेड्यूल तक जारी नहीं हो सका है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here