• तुर्की में मंगलवार को हिमस्खलन में 5 और बुधवार को 33 लोग मारे गए
  • स्वास्थ्य मंत्री फाहरेतिन कोजा ने कहा- हताहतों की संख्या बढ़ सकती

Dainik Bhaskar

Feb 06, 2020, 08:36 AM IST

अंकारा. पूर्वी तुर्की में दो दिनों में हुए हिमस्खलन से 38 लोगों की मौत हो गई है, जबकि 53 घायल हैं। स्थानीय मीडिया ने बताया कि अभी भी बर्फ के नीचे लोग दबे हो सकते हैं। स्वास्थ्य मंत्री फाहरेतिन कोजा ने चेतावनी दी कि हताहतों की संख्या बढ़ सकती है।

सरकार की आपदा एजेंसी एएफएडी के मुताबिक, बुधवार को दूसरे हिमस्खलन से लगभग 33 लोग मारे गए। एक दिन पहले मंगलवार को भी यहां हिमस्खलन हुआ था, उनके बचाव और तलाशी अभियान के दौरान दूसरी घटना हुई। 33 बचावकर्मियों और नागरिकों के शवों को बुधवार को वान प्रांत में खोजा गया है।

‘बचावकर्मी पहले हादसे में फंसे 2 लोगों को खोजने गए थे’

आपदा एजेंसी ने बताया- बचावकर्मी चार फरवरी को हुए हिमस्खलन के मलबे में दबे मिनी बस में फंसे लोगों को निकालने में मदद करने गए थे। मिनी बस में पांच लोगों की मौत हो गई थी। पहले हिमस्खलन से आठ लोगों को जिंदा बचा लिया गया था। एएफएडी के वैन प्रांत के अध्यक्ष उस्मान उजर ने कहा कि बुधवार को बचाव दल मंगलवार की घटना में फंसे दो लोगों की तलाश करने गए थे, जब यह हादसा हुआ।

रेस्क्यू में स्थानीय लोगों ने भी मदद की

एएफएडी ने बताया कि स्थानीय लोगों ने भी बचाव कार्य में मदद की। गृह मंत्री सुलेमान सोयलू ने कहा कि ज्यादा ठंड होने के कारण बचावकर्मियों ने रात में रेस्क्यू ऑपरेशन रोक दिया था। बुधवार सुबह फिर से उन्होंने बचाव कार्य शुरू किया था। रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, स्पेशल मिलिट्री प्लेन से 75 सैन्य अधिकारियों और बचावकर्मियों को अंकारा भेजा गया है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here