• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Tejashwi Yadav CM Post Vs Nitish Kumar Sanrakshak Offer; What Says Congress Legislature Party Leader Ajit Sharma

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा।

बिहार की सियासत में विपक्ष में बैठी कांग्रेस मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर कभी प्यार तो कभी गुस्सा बरसाने में लगी है।आज एक बार फिर कांग्रेस नेता अजीत शर्मा ने नीतीश कुमार को महागठबंधन में आने का न्योता दे दिया। राजद नेता तेजस्वी यादव के बयानों से अगल अजीत शर्मा ने न सिर्फ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को महागठबंधन में शामिल होने का प्रस्ताव डे डाला, बल्कि तेजस्वी यादव के भी उस बयान पर सफाई डे डाली, जिसमें तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार के लिए महागठबंधन में नो इंट्री की बात कही थी।

नीतीश के लिए कभी प्यार तो कभी तेवर दिखा रहे अजीत शर्मा
पत्रकारों से बातचीत करते हुए अजीत शर्मा ने मंत्रिमंडल विस्तार में हो रही देरी का ठीकरा भाजपा पर फोड़ दिया। कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा ने कहा कि नीतीश कुमार NDA गठबंधन के अंदर दबाव में हैं और ठीक से काम नहीं कर पा रहे हैं तो महागठबंधन उनका स्वागत करता है। सरकार बनने के बाद मंत्रिमंडल विस्तार में जो देरी हो रही है, उससे यह निश्चित हो चुका है कि कहीं न कहीं नीतीश कुमार जी दबाव में हैं। हालांकि वो तो पहले भी महागठबंधन में रह चुके हैं। उन्हें लगता है कि वे विकास नहीं कर सकते, वहां काम नहीं कर सकते। भाजपा ने 19 लाख युवकों को रोजगार देने की बात की है। पूरे महागठबंधन के लोग इंतजार कर रहे हैं कि कैबिनेट का विस्तार हो और अगर वो काम नहीं करेगा, जनता से किया वादा पूरा नहीं करेंगे तो सरकार को घेरेंगे और सड़क पर उतरेंगे।

तेजस्वी ने लगा रखी है नीतीश के लिए नो इंट्री
कांग्रेस के नेता अजीत शर्मा नीतीश कुमार के लिए भले ही प्यार जता रहा हों, लेकिन बिहार में जिस महागठबंधन का हिस्सा अजीत शर्मा की पार्टी कांग्रेस है, उस महागठबंधन के नेता बिहार में तेजस्वी यादव हैं। तेजस्वी यादव ने महागठबंधन में नीतीश कुमार की नो इंट्री कर रखी है। ऐसे में कैसे अजीत शर्मा नीतीश कुमार को बुलावा भेज रहे हैं, इस सवाल पर बोलते हुए अजीत शर्मा कहते हैं-तेजस्वी यादव नीतीश कुमार का महागठबंधन में आने का विरोध नहीं कर रहे। तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं। कांग्रेस ने ये पहले ही तय किया है कि महागठबंधन का नेता तेजस्वी यादव हैं और वही मुख्यमंत्री तय हुए हैं। इसलिए हम ये कहां कह रहे हैं कि नीतीश जी आयेंगे तो मुख्यमंत्री ही बनेंगे। वे एक संरक्षक के रूप में आएं। हमलोग बिहार का विकास करेंगे। मुख्यमंत्री बनना, न बनना तो छोटी बात है, जनता का विकास करने का वादा किये हैं, वो हमलोग मिलजुल करेंगे।

NDA तोड़ने में लगे अजीत की पार्टी में भरत लगा रहे टूट की रट
एक तरफ अजीत शर्मा बिहार में NDA को तोड़ने में लगे तो दूसरी तरफ उनकी अपनी ही पार्टी के नेता कांग्रेस में टूट हो रही-टूट हो रही है, का अलर्ट बिहार से लेकर दिल्ली तक बजा रहे हैं। कांग्रेस नेता और पूर्व विधायक भरत सिंह ने आज एकबार फिर प्रदेश कांग्रेस के नेताओं पर हमला बोला। भरत सिंह ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा कांग्रेस के MLC और विधायकों को तोड़कर सरकार में शामिल होने जा रहे थे। भरत प्रसाद सिंह ने कहा कि मीडिया में जब खबरें आने लगीं तो मदन मोहन झा और अखिलेश सिंह अलर्ट हो गए और उसी वक्त शक्ति सिंह गोहिल को चुनाव प्रभारी पद से हटाया गया और नए चुनाव प्रभारी बिहार के बनाए गए। उन्होंने सीधे तौर पर कहा कि विधानसभा और लोकसभा चुनाव में सदानंद सिंह, मदन मोहन झा, अखिलेश सिंह और शक्ति सिंह गोहिल ने टिकट बेचा है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here