• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Semi automatic Rifle, A 12 bore Double barreled Gun, Was Found In Bhind, In The Bikeru Scandal, Two Arrested

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ग्वालियर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
Semi-automatic rifle, a 12-bore double-barreled gun, was found in Bhind, in the Bikeru scandal, two arrested | UP के बिकरू में सेमी ऑटोमेटिक राइफल और 12 बोर डबल बैरल बंदूक से की थी पुलिसकर्मियों की हत्या, दो गिरफ्तार

गैंगस्टर विकास दुबे के भाई दीपक दुबे द्वारा बेची गई दो गन भिंड पुलिस ने शनिवार को दो बदमाशों से बरामद की हैं।

  • UP STF कई बार गुपचुप ढंग से ग्वालियर, भिंड में दे चुकी है दबिश
  • शनिवार को भिंड पुलिस को मिली बड़ी सफलता

UP के गैंगस्टर विकास दुबे ने कानपुर के बिकरू कांड में जिस सेमी ऑटोमेटिक राइफल से पुलिस अफसरों और जवानों की हत्या की थी, वह भिंड में शनिवार को मिल गई है। भिंड पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर विकास दुबे के भाई दीपक दुबे द्वारा बेची गई 1 चेस्टर अमेरिकन गन, 12 बोर डबल बैरल बंदूक बरामद की है।

इन हथियारों के साथ दो बदमाश भी पकड़े गए हैं। शनिवार को कार्रवाई भिंड एसपी मनोज कुमार सिंह के निर्देशन में मेहगांव व भिंड शहर पुलिस ने की है। एक सप्ताह पहले UP STF की टीम मनीष नाम के बदमाश को यहां से उठाकर ले गई थी, तभी इन हथियारों के भिंड में होने का पता लगा था। फिलहाल, आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

इस सेमी ऑटोमेटिक गन का उपयोग गैंगस्टर विकास दुबे ने कानपुर के बिकरू कांड में पुलिस जवानों की जान लेने में किया था

इस सेमी ऑटोमेटिक गन का उपयोग गैंगस्टर विकास दुबे ने कानपुर के बिकरू कांड में पुलिस जवानों की जान लेने में किया था

कानपुर के गैंगस्टर विकास दुबे द्वारा कानपुर के बिकरू में UP पुलिस के अफसरों और जवानों की हत्या में प्रयोग किए गए हथियारों की कानपुर STF तेजी से तलाश कर रही थी। STF की टीम कई बार ग्वालियर और भिंड में गोपनीय ढंग से दबिश दे चुकी थी, लेकिन STF के हाथ कुछ आ नहीं रहा था। एक सप्ताह पहले कानपुर STF ने मामले में भिंड के डिडी नगर निवासी मनीष यादव नाम के बदमाश को पकड़ा था। STF उसे उठाकर तो भिंड से ले गई थी, लेकिन पकड़ना कानपुर से बताया था। मनीष को विकास दुबे के हथियार खरीदने और बेचने के संदेह में उठाया गया था।

कानपुर STF वापस भिंड में दोबारा दबिश देने आती, उससे पहले ही भिंड पुलिस ने होमवर्क कर लिया। पुलिस ने स्थानीय स्तर पर पड़ताल तेज की। कोतवाली पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर जग्गू उर्फ आकाश कुशवाह निवासी शास्त्री नगर को गिरफ्तार कर उसके पास से गैंगस्टर विकास दुबे के भाई दीपक दुबे द्वारा बेचे गए हथियार में से 12 बोर की डबल बैरल बंदूक मिल गई है।

जब उससे सेमी ऑटोमेटिक राइफल के संबंध में पूछताछ की गई, तो पता लगा कि वह गन अभिषेक पुत्र राजेंद्र शर्मा निवासी देवरी मेहगांव के यहां है। इस पर मेहगांव पुलिस ने दबिश देकर अभिषेक का गिरफ्तार कर सेमी ऑटोमैटिक गन बरामद कर ली।

15 से 20 दिन पहले खरीदे थे

इन हथियारों के संबंध में जब आकाश और अभिषेक से पूछताछ की गई, तो उन्होंने बताया कि यह हथियार उन्होंने करीब 15 से 20 दिन पहले ही खरीदे हैं। 12 बोर की बंदूक 30 हजार रुपए और सेमी ऑटोमेटिक राइफल करीब 3 लाख रुपए में खरीदी गई है। बताया जा रहा है, दोनों को यह हथियार डिडी नगर निवासी मनीष यादव ने बेचे थे, जिसे कानपुर STF पहले ही अपने कब्जे में ले चुकी है। मनीष को यह हथियार विकास गैंग ने दिए थे।

कोर्ट से 14 बंदूक चोरी में आरोपी है अभिषेक

बिकरू कांड के हथियार के साथ पकड़ा गया आरोपी अभिषेक शर्मा करीब डेढ़ साल पहले न्यायालय के मालखाना में हुई 14 बंदूकों की चोरी के मामले में भी आरोपी है। उस मामले में वह पकड़ा भी गया था। बाद में पैरोल पर बाहर था।

बिकरू कांड की गन मिली हैं

भिंड एसपी मनोज कुमार सिंह के मुताबिक एक सेमी ऑटो राइफल व 12 बोर डबल बैरल बंदूक के साथ दो आरोपियों को पकड़ा है। आरोपियों से पूछताछ में पता चला है कि यह राइफल बिकरू कांड में इस्तेमाल हो चुकी हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here