• रायपुर को रखा गया है रेड जोन में, इस फैसले से व्यापारियों का बड़ा वर्ग नाराज 
  • एक दिन पहले प्रशासन के खिलाफ जाकर कपड़ा कारोबारियों ने खोली थी दुकान 

दैनिक भास्कर

May 09, 2020, 10:08 PM IST

रायपुर.  राजधानी को रेड जोन घोषित किए जाने के बाद पहली बड़ी राहत मिलेगी। सोमवार से पंडरी कपड़ा मार्केट समेत आसपास के पांच बड़े कपड़ा बाजारों को खोलने की अनुमति दे दी गई है। पंडरी कपड़ा दुकानदारों ने शुक्रवार को दुकानें खोल ली थी। इसके बाद उनका पुलिस, निगम और प्रशासन के अफसरों से विवाद भी हुआ। आठ दुकानदारों से 16 हजार रुपए का जुर्माना भी वसूला गया। पंडरी के रसूखदार कारोबारियों ने इसकी शिकायत सीएम तक पहुंचा दी। शनिवार को रायपुर उत्तर विधानसभा के विधायक कुलदीप जुनेजा सुबह से ही पंडरी कपड़ा बाजार खुलवाने के लिए सक्रिय हो गए। एक घंटे से ज्यादा समय तक चली बैठक के बाद तय हो गया कि सोमवार से पंडरी बाजार खुल जाएगा। 

सुबह 11 से दोपहर 3 बजे तक खुलेंगे बाजार
प्रशासन ने पंडरी थोक कपड़ा मार्केट के साथ,  महालक्ष्मी क्लॉथ मार्केट, इंदिरा गांधी व्यवसायिक परिसर, न्यू क्लॉथ मार्केट, पगारिया कांप्लेक्स की दुकानों और जय हिंद मार्केट को सुबह 11 से दोपहर 3 बजे तक खोलने की अनुमति दे दी है। इसके अलावा शहर के बाकी कपड़ा दुकानें नहीं खुल सकेंगी। अफसरों ने तय किया है कि एक साथ बाजार की सभी दुकानें नहीं खोली जाएंगी। पहले दिन सोमवार को सड़क की सिर्फ एक लाइन की दुकानें खुलेंगी, दूसरी लाइन की दुकानें मंगलवार को खुलेंगी। तब सोमवार को खोली गई दुकानें बंद रहेंगी। 

चैंबर अध्यक्ष और महामंत्री आपस में भिड़े
पंडरी कपड़ा बाजार खोलने को लेकर चैंबर अध्यक्ष जितेंद्र बरलोटा और महामंत्री लालचंद गुलवानी आपस में भिड़ गए। महामंत्री ने अध्यक्ष पर आरोप लगाया कि उन्हें केवल पंडरी के दुकानदारों की परेशानी दिख रही है। शहर में बाकी कारोबार भी बंद है, लेकिन उन्हें खुलवाने के लिए कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। एक व्यापारी वर्ग को खुश कर बाकी को नाराज किया जा रहा है। इससे चैंबर की छवि धूमिल हो रही है।  मोबाइल, बर्तन, स्टील, फैंसी स्टोर, कॉस्मेटिक, प्लास्टिक समेत कई व्यापारिक एसोसिएशन ने चैंबर अध्यक्ष को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि चैंबर को केवल एक मार्केट की फिक्र करने के बजाय सभी की करनी चाहिए।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here