• न्यू संतोखपुरा की घटना, पड़ोसी भाइयों में था जमीन को लेकर विवाद
  • बेटे दविंद्र ने बताया- भाई के साथ कोर्ट केस जीतने पर घर आने पर दूसरे भाई को पड़ोसी होने के नाते पिलाई थी चाय

दैनिक भास्कर

May 21, 2020, 04:11 PM IST

जालंधर. जालंधर में 76 साल के एक बुजुर्ग की हत्या कर दी गई। वारदात की वजह पड़ोस में रहने वाले दो भाइयों में से एक को ही चाय पिलाना बताया गया। इसको लेकर ही रंजिश हो गई। घटना बुधवार शाम की है। रंजिश रखने वाले लोग बुजुर्ग को अपने घर के अंदर घसीटकर ले गए और गला घोंट दिया। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

मृतक की पहचान दविंद्र सिंह निवासी न्यू संतोखपुरा के रूप में हुई है। उनके बेटे मुखत्यार सिंह ने बताया कि वह गाड़ियों की मरम्मत करने का काम करते हैं। मुख्त्यार सिंह 4 भाई हैं, जिनका एक छोटा भाई निर्मल सिंह दिल्ली यूनिवर्सिटी में काम करता है। मुख्तयार का आरोप है कि उनके घर के पड़ोस वाले प्लॉट को लेकर दो सगे भाइयों का कोर्ट केस चल रहा था। इस दौरान जीतने वाला भाई उनके घर आया तो उन्होंने पड़ोसी होने के नाते उसे चाय पिला दी, जिसके बाद दूसरा भाई उनसे रंजिश रखने लगा।

Neighbors dragged 76-year-old elderly people first inside their house, then strangled to death | 76 साल के बुजुर्ग को पड़ोसी अपने घर घसीटकर ले गए और गला घोंट दिया, दो भाइयों में से एक को चाय पिलाने से थी रंजिश
हत्या की वारदात के बारे में जानकारी देते बुजुर्ग दविंद्र का बेटा और अन्य।

आरोप है कि रंजिश रखने वाला पड़ोसी सीवरेज के पानी या फिर बाइक खड़ी करने को लेकर अक्सर विवाद करता था, जिसको लेकर दविंदर सिंह ने थाने और इलाके के पार्षद के सामने भी शिकायत की, लेकिन यह मामला लगातार बढ़ता रहा। आरोप है कि बुधवार की शाम करीब 6 बजे उनके पड़ोस में रहने वाला शशि कुमार बाइक खड़ी करने के बाद सीवरेज में छोड़े जाने वाले पानी को लेकर उनसे उलझ गया।

हंगामा हुआ तो शशि के अन्य घर के परिजन भी बाहर आ गए, जिन्होंने दविंदर सिंह को अपने घर में घसीट लिया और उसे मारपीट करने के बाद दम घोंट दिया। मुख्तियार सिंह का कहना है कि उनके पिता देवेंद्र सिंह अपनी पत्नी नसीब कौर के साथ इस घर में रहते हैं, जबकि अन्य भाई अलग-अलग जगह पर रह रहे हैं। इस बीच बचाने पहुंचे मुखत्यार सिंह से भी धक्का-मुक्की करते हुए उन्हें घायल कर दिया गया। बाद में पिता को पड़ोसियों के घर से निकालकर अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here