• मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का आदेश- रेड जोन से आने वालों की प्राथमिकता के आधार पर टेस्टिंग की जाए
  • विदेश से जो भी प्रवासी बिहार आएंगे, उनको गया में 21 दिनों के लिए क्वारैंटाइन सेंटर में रखा जाएगा।

दैनिक भास्कर

May 09, 2020, 08:49 PM IST

पटना. बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 591 हो गई है। अब दूसरे राज्यों से लौट रहे लोगों में भी संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। शुक्रवार को 29 नए पॉजिटिव मिले, जिसमें से 19 तीन दिन पहले दूसरे राज्यों से लौटे थे। शनिवार को 12 नए मरीज मिले, जिनमें से 7 प्रवासी हैं।

इधर, लॉकडाउन के चलते देश के दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासियों के आने का सिलसिला जारी है। अब तक 70 ट्रेनों से 83 हजार प्रवासी लौटे हैं। शनिवार को 15 ट्रेनों से 18 हजार 115 प्रवासी लौट रहे हैं। 

रेड जोन इलाकों से आने वालों की हो प्राथमिकता के आधार पर टेस्टिंग
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए देश के रेड जोन से बिहार आने वाले लोगों की प्राथमिकता के आधार पर टेस्टिंग का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले कुछ दिनों में विदेशों से भी जो लोग आएंगे, उनकी भी कोविड-19 प्रोटोकॉल के हिसाब से टेस्टिंग और क्वारैंटाइन की व्यवस्था की जानी चाहिए।

नवादा: क्वारैंटाइन सेंटर से भागे 70 मजदूर
नवादा के एक क्वारैंटाइन सेंटर से शनिवार सुबह 70 से अधिक मजदूर भाग गए। इस सेंटर के एक प्रवासी की रिपोर्ट शुक्रवार को पॉजिटिव आई थी। मजदूर क्वारैंटाइन सेंटर में बदइंतजामी का आरोप लगा रहे थे। मजदूरों का कहना था कि यहां खाना समय पर नहीं मिलता। पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों द्वारा समझाने के बाद मजदूर वापस लौटे। यहां 200 प्रवासियों को रखा गया था।

पटना: बीएमपी के पांच जवान संक्रमित
बिहार मिलिट्री पुलिस (बीएमपी) के 5 जवान कोरोना संक्रमित मिले हैं। सभी राजधानी के खाजपुरा में रहते हैं। बीएमपी से रिटायर हवलदार हाल में पॉजिटिव पाए गए थे। पांचों जवान उनके साथ मेस में खाते थे।

बीएमपी जवानों के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद मुख्यालय में हड़कंप

एक साथ पांच जवानों के पॉजिटिव आने के बाद बीएमपी की 14 वीं बटालियन के हेडक्वार्टर के कैम्पस में हड़कंप मच गया। इसी परिसर में ही पांचवी और दसवीं बटालियन का मुख्यालय भी है। इन तीनों बटालियन में करीब तीन हजार जवान रहते हैं।

शहर के मुख्य बाजारों और सब्जी मंडी में तैनात थे बीएमपी जवान

लॉकडाउन में शहर में कानून-व्यवस्था और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए बीएमपी के करीब 70 जवानों की प्रतिनियुक्ति की गई थी। इन जवानों को मीठापुर सब्जी मंडी, बाजार समिति फलमंडी, दीघा सब्जी मार्केट, बहादुरपुर, मां शीतला मंदिर, दलदली समेत शहर के कई मेन सब्जी बाजार व अन्य स्थानों पर तैनात गया था।

विदेश से आएंगे 2075 लोग, गया में होंगे क्वारैंटाइन
लॉकडाउन के दौरान बड़ी संख्या में विदेशों में फंसे हुए लोगों ने भी बिहार लौटने की तैयारी शुरू कर दी है। आईपीआरडी सचिव अनुपम कुमार ने बताया कि अभी विमानों का शेड्यूल तय नहीं हुआ है, लेकिन राज्य सरकार ने विदेश से आने वाले सभी विमानों को गया में लैंड कराने की तैयारी कर ली है।

विदेश से आने वाले प्रवासी 21 दिन क्वारैंटाइन में रहेंगे

विदेश से जो भी प्रवासी बिहार आएंगे, उनको गया में ही 21 दिनों के लिए क्वारैंटाइन सेंटर में रखा जाएगा। सबसे अधिक 632 प्रवासी यूक्रेन से आएंगे। इसी तरह बांग्लादेश से 480 और ओमान से 360 लोग बिहार आएंगे। 

समस्तीपुर के वसंतपुर पहुंची मेडिकल टीम। संक्रमित के कपड़े लाने वाले के परिवार के 13 लोगों को किया गया होम क्वारैंटाइन।

समस्तीपुर: 6 संक्रमित कोलकाता में पूजा-पाठ कराते थे
समस्तीपुर जिले में 6 नए संक्रमित मिले। कोरोना पॉजिटिव पाए गए लोगों में चार रोसड़ा के ढठ्‌ठा व दो बसंतपुर गांव के रहने वाले हैं। सभी कोलकाता के एक मंदिर में पुजारी का काम करते थे। तबियत खराब होने पर कोलकाता में जांच कराई थी। सैंपल लेने के बाद सबको होम क्वारैंटाइन में रहने को कहा गया था। इसी दौरान उन्हें कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने की भनक लग गई। स्वास्थ्य विभाग की टीम के पहुंचने से पहले सभी वहां से भाग गए। कोलकाता से बचते हुए झारखंड पहुंचे फिर किसी तरह रोसड़ा। इस दौरान कोलकाता से पॉजिटिव मरीज के भागने की सूचना पर पुलिस ने सभी को ट्रैक कर लिया। रोसड़ा पुलिस ने 5 मई की रात सबको क्वारैंटाइन सेंटर में लाकर रखा। जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उन लोगों को समस्तीपुर शहर के एक होटल में बनाए गए आइसोलेशन सेंटर में भर्ती किया है।

दरभंगा: हावड़ा से आए 5 में से 3 कोरोना पॉजिटिव
दरभंगा जिले में शुकवार को 4 नए कोरोना पॉजिटिव मिले। जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 9 हो गई। जो 4 नए मामले सामने आए हैं, उनमें से 3 लोग पश्चिम बंगाल से लौटे हैं। पश्चिम बंगाल के हावड़ा से 5 लोग ट्रेवल एजेंसी की एक गाड़ी से 5 मई की देर रात बिरौल पहुंचे थे। स्थानीय थाना की पुलिस ने इनसे पूछताछ की और प्रखण्ड के क्वारैंटाइन केन्द्र में पहुंचा दिया। पांच में तीन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वहीं, दिल्ली से आए 8 लोग जो पहले टेस्ट में निगेटिव पाए गए थे, दूसरी जांच में उनमें से एक महिला पॉजिटिव पाई गई है। 

खगड़िया जंक्शन पर प्रवासी की स्क्रीनिंग करते डॉक्टर।

खगड़िया: दिल्ली और राजस्थान से आए चार लोग संक्रमित मिले
खगड़िया में शुक्रवार को चार मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए।  तीन दिल्ली से और एक राजस्थान के अलवर से आए थे। कोरोना के लक्षण दिखने के बाद उन्हें आइसोलेट करते हुए उनका सैंपल जांच के लिए भेजा गया था। 

सहरसा: महाराष्ट्र से आए दो बच्चे कोरोना संक्रमित
सहरसा में दो बच्चे कोरोना संक्रमित मिले हैं। दोनों महाराष्ट्र से आए थे। 6 मई को महाराष्ट्र के नंदूरबार से मदरसा में पढ़ने वाले 994 बच्चों को लेकर एक स्पेशल ट्रेन सहरसा आई थी। ट्रेन में सहरसा के 177 बच्चे थे। सभी बच्चों की स्क्रीनिंग की गई थी, जिसमें 8 में कोरोना के लक्षण पाए गए थे। सभी 8 बच्चों को आइसोलेट कर सदर अस्पताल भेजा गया था। उनका सैंपल जांच के लिए भेजा गया था, जिसमें दो की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here