• 16 जून को गया-देवघर मुख्य मार्ग पर सड़क हादसे में घायल को लाया गया था क्लिनिक, परिजनों का आरोप- लापरवाही के चलते हुई मौत

दैनिक भास्कर

Jun 18, 2020, 03:53 PM IST

कोडरमा. सतगावां थाना क्षेत्र स्थित गीता क्लिनीक के डॉक्टरों पर लापरवाही से युवक की मौत का आरोप लगाते हुए मृतक के परिजनों ने पत्थरबाजी और आगजनी की। इसकी सूचना के बाद पुलिस और सीआरपीएफ के जवान मौके पर पहुंचे और लाठीचार्ज किया लेकिन भीड़ वहां से नहीं हटी। फिलहाल, मौके पर एसपी एहतेशाम वकारीब सहित प्रशासनिक अधिकारी आक्रोशितों को समझाने में जुटे हैं। जिले के उपायुक्त रमेश घोलप भी मामले पर नजर बनाए हुए हैं। उधर, आक्रोशितों की मांग है कि लापरवाही के आरोपी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर चंद्रमोहन कुमार को बर्खास्त किया जाए। 

बताया जा रहा है कि 16 जून को सड़क दुर्घटना में मृत युवक के परिजनों ने चिकित्सक की लापरवाही को लेकर पहले सड़क जाम किया। इसके बाद ग्रामीणों की मदद से परिजन नासरगंज स्थित गीता क्लीनिक के समीप पहुंचे और विरोध प्रदर्शन करने लगे। फिर आक्रोशितों ने गीता क्लिनिक पर पत्थरबाजी करनी शुरू कर दी और अंदर पहुंचकर वहां से सारा सामान निकालकर बाहर सड़क पर फेंक दिया। साथ ही उनमें आग लगा दी। 

विरोध-प्रर्दशन कर रहे आक्रोशितों पर लाठीचार्ज करते पुलिस और सीआरपीएफ के जवान।

इस बीच हंगामे की सूचना के बाद पुलिस और सीआरपीएफ की टीम मौके पर पहुंची तो पुलिस एवं प्रदर्शन कर रहे आक्रोशित ग्रामीणों के बीच भिड़ंत हो गई। पुलिस ने भीड़ को हटाने के लिए लाठीचार्ज किया जिसके बाद ग्रामीणों के तरफ से पत्थरबाजी की गई। उधर, हंगामे की सूचना के बाद एसपी के साथ एसडीपीओ राजेंद्र प्रसाद, एडीओ विजय वर्मा, थाना प्रभारी अरविंद उरांव, बीडीओ वैद्यनाथ उरांव मौके पर पहुंचे और भीड़ को शांत कराने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

आक्रोशित ग्रामीणों का आरोप है कि गीता क्लीनिक में अगर युवक का प्राथमिक इलाज कर दिया जाता तो उसकी मौत नहीं होती। आक्रोशितों ने का आरोप है कि ऑक्सीजन न होने का बहाना कर घायल युवक को भर्ती नहीं किया गया। 

आक्रोशितों की ओर से की गई पत्थरबाजी में क्षतिग्रस्त सीआरपीएफ की गाड़ी।

बुधवार को भी दो घंटे सड़क जाम कर किया था हंगामा
इससे पहले आक्रोशितों ने बुधवार को भी हंगामा कर बासोडीहा-गांवा मुख्य मार्ग को जाम कर दिया था। ग्रामीण खुंटा के समीप मृतक के परिजनो को मुआवजा देने व दोषियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे। बता दें कि सतगांवा थाना क्षेत्र अंतर्गत तमोलिया पुल के पास मंगलवार को गया-देवघर मुख्य मार्ग पर खुंटा निवासी राजकुमार उर्फ राजा की बाइक व बोलेरो के बीच टक्कर के बाद पीछे से आ रही ट्रैक्टर के चपेट में आने से गंभीर रूप से घायल हो गया था। बाद में सदर अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। युवक की मौत की खबर पाकर मंगलवार की शाम 5 बजे से ग्रामीणों ने रात 10.45 बजे तक बासोडीह गांवा मुख्य मार्ग को खुंटा के समीप सड़क को जाम कर दिया था।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here