• केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कहा- श्रीनिवास का स्पोर्ट्स ऑथरिटी ऑफ इंडिया के कोच ट्रायल लेंगे
  • ज्यादातर लोगों में एथलेटिक्स की कम जानकारी, सुनिश्चित करुंगा कि कोई भी प्रतिभा बिना जांच के नहीं रहे: रिजिजू

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2020, 01:51 PM IST

नई दिल्ली. केंद्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने कर्नाटक के भैंसा दौड़ कंबाला में नया रेकार्ड बनाने वाले श्रीनिवास गौड़ा की मदद के लिए आगे आए हैं। रिजिजू ने शनिवार को कहा कि मैं श्रीनिवास गौड़ा को फोन करूंगा। उसका स्पोर्ट्स ऑथरिटी ऑफ इंडिया (एसएआई) के कोच ट्रायल लेंगे। श्रीनिवास गौड़ा (28) ने पिछले दिनों भैंसा दौड़ में 13.62 सेकेंड में 142.50 मीटर दूरी तय की थी। 

रिजिजू ने कहा, ‘‘ज्यादातर लोगों में ओलिंपिक खासकर एथलेटिक्स के बारे में कम जानकारी है। इसमें इंसान की ताकत और धैर्य दोनों देखी जाती है। मैं सुनिश्चित करुंगा कि भारत में कोई भी प्रतिभा बिना जांच के नहीं रहे।’’

श्रीनिवास की तुलना उसैन बोल्ट से की जा रही
श्रीनिवास दक्षिण कन्नड़ जिले के मूदाबिदरी के रहने वाले हैं। कम्बाला में रिकॉर्ड बनाने के बाद सोशल मीडिया पर उन्हें प्रशिक्षण देने की मांग हो रही है।  लोग उनकी स्पीड का आकलन कर रहे हैं। दूरी और समय के हिसाब से 100 मीटर में श्रीनिवास की स्पीड 9.55 सेकंड निकलकर सामने आ रही है, जो बोल्ट से 0.03 सेकंड तेज है। हालांकि, सीधे बोल्ट के रिकॉर्ड से इसकी तुलना नहीं की जा सकती है। क्योंकि श्रीनिवास भैंसों के जोड़े के साथ कीचड़ में दौड़ रहे थे।

मध्यप्रदेश में भी ऐसा एक मामला सामने आया था
मध्यप्रदेश के शिवपुरी के 24 साल के रामेश्वर गुर्जर पिछले साल अगस्त में नंगे पैर दौड़ कर सुर्खियों में आए थे। रामेश्वर का एक वीडियो वायरल हुआ था। इसमें उन्हें नंगे पैर 100 मी. की दौड़ 11 सेकंड में पूरी करते हुए दिखाया गया था। रिजिजू ने रामेश्वर का वीडियो देखने के बाद उन्हें बुलाया था। मध्यप्रदेश सरकार ने भोपाल राज्य एकेडमी में बुलाकर उनका टेस्ट लिया था।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here