• राहों के रहने वाले राष्ट्रीय हिंदी दैनिक के पत्रकार सनप्रीत मांगट की 10 मई को संदिग्ध हालात में मौत हुई थी
  • बलाचौर सिविल अस्पताल से आई पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सनप्रीत के शरीर पर धारदार हथियार से 14 जगह निशान मिले

दैनिक भास्कर

May 22, 2020, 05:19 PM IST

नवांशहर. नवांशहर में पत्रकार की मौत के मामले में पुलिस ने हत्या की धारा जोड़ते हुए मामला दर्ज किया है। हालांकि इससे पहले पुलिस ने पिता के बयान पर सड़क हादसे में हुई मौत मानते हुए कार्रवाई की थी। बलाचौर सिविल अस्पताल से आई पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में धारदार हथियार से हमले का खुलासा हुआ है। इसी आधार पर पुलिस ने हत्या का केस दर्ज किया है।

घटना बीती 10 मई की है, जब राहों के रहने वाले एक राष्ट्रीय हिंदी दैनिक समाचार पत्र के पत्रकार सनप्रीत मांगट की संदिग्ध हालात में मौत हो गई थी। हालांकि शव पर चोट के कई निशान थे, बावजूद इसके उस वक्त पिता बलवंत सिंह के बयान पर पुलिस ने इसे सड़क हादसा मानते हुए कार्रवाई की थी। शव का बलाचौर सिविल अस्पताल से पोस्टमॉर्टम करवाया गया है। वहां से आई रिपोर्ट में सनप्रीत के शरीर पर धारदार हथियार से 14 जगह निशान मिले। पुलिस ने पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के आधार पर हत्या का मामला दर्ज किया है। इस मौत को सनप्रीत के द्वारा पत्रकार रहते समाजविरोधी तत्वों के कारनामे उजागर करने की रंजिश में की गयी हत्या माना जा रहा है।

एसएसपी अल्का मीणा ने इस मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है। इसमें एसपी-डी, डीएसपी-डी, सीआईए इंचार्ज शामिल हैं। दूसरी ओर मृतक सनप्रीत के पिता बलवंत सिंह ने हालिया बयान में कहा है कि घटना वाले दिन हम खेत में ही थे। रात में खेत में पानी लगाना था। मैंने सनप्रीत को फोन किया तो उसने 5 मिनट में आने की बात कही थी, मगर वह लौटा नहीं। बाद में फोन बंद आने लगा तो बलवंत खुद मोटरसाइकल से देखने चले गए। वहां सनप्रीत की बाइक एक साइड स्टैंड पर पड़ी थी पास ही सनप्रीत का शव। चूंकि सनप्रीत माइनिंग माफिया के निशाने पर था, ऐसे में उन्होंने पुलिस प्रशासन से मांग की है कि हत्या के लिए जिम्मेदार लोगों को जल्द से जल्द सामने लाया जाए।

वहीं पूर्व सांसद प्रेम सिंह चंदू माजरा ने कहा कि सनप्रीत पत्रकारी के दौरान माइनिंग माफिया और समाजविरोधी लोगों के खिलाफ लिखा करता था। उसकी हत्या सोची-समझी साजिश के तहत की गई है। इस लॉकडाउन के दौरान भी माइनिंग माफिया सरे आम माइनिंग कर रहा है। इसकी सीबीआई से जांच करवाई जानी चाहिए। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here