• आज 46 नए केस सामने आए, कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत का आंकड़ा 143
  • मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार आज प्रदेश में रिकार्ड 17 मौत, 315 नए पॉजिटिव
  • राजस्थान महामारी अध्यादेश में नई अधिसूचना, जागरूकता पोस्टर लगाना जरूरी

दैनिक भास्कर

Jun 18, 2020, 10:26 PM IST

जयपुर. प्रदेश की राजधानी में कोरोना संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा है। रोजाना केसों में बढ़ोतरी हो रही है। इसमें राहत की बात यह है कि केसों की संख्या बढ़ने के साथ ही डिस्चार्ज हो रहे मरीजों का आंकड़ा भी जारी है। राजधानी जयपुर में गुरुवार को 43 नए कोरोना पॉजिटिव केस सामने आए। इनके बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2720 हो गई।

इनमें अब तक 2191 मरीजों के रिकवर होने और कोरोना जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद इन सभी को डिस्चार्ज कर दिया गया है। ऐसे में जयपुर में अब 386 कोरोना पॉजिटिव हुए मरीजों का आरयूएचएस में उपचार चल रहा है। गुरुवार को तीन मरीजों ने दम तोड़ा। इससे जयपुर में मौत का आंकड़ा भी बढ़कर 143 हो गया है। इससे पहले बुधवार रात तक 60 नए केस सामने आए थे। इसके अलावा तीन मरीजों ने दम तोड़ा दिया था।

जयपुर में 32 जगहों पर 46 कोरोना संक्रमित मिले, हथरोई में सबसे ज्यादा 7 नए पॉजिटिव 

राजधानी जयपुर में गुरुवार को 32 जगहों 46 कोरोना संक्रमित मिले। इनमें सबसे ज्यादा 7 नए कोरोना पॉजिटिव विधायकपुरी इलाके में हथरोई किले के आसपास बस्ती में, मानसरोवर इलाके में 4 व शास्त्री नगर में 3 संक्रमित मिले। इसके अलावा संजय नगर भट्‌टा बस्ती, संजय कॉलोनी आरपीए रोड, दादी का फाटक, बैनाड़ रोड, रामगंज, चांदपोल, बरकत नगर, महेश नगर, वीकेआई, बजाज नगर, जवाहर नगर, कमला नेहरु नगर अजमेर रोड, कान्हा विहार, महात्मा गांधी अस्पताल, सांगानेर, दिल्ली रोड गलता, चाकसू, पटेल नगर, राजापार्क, दांतली, निर्माण नगर, बालापुरा फागी, बनीपार्क, किसान मार्ग, कृष्णा मार्ग, चौड़ा रास्ता व बापू नगर में भी कोरोना पॉजिटिव मिले।

जयपुर में अजमेर रोड पर विधायकपुरी इलाके में हथरोई फोर्ट के पास बस्ती में गुरुवार को 7 नए केस मिले। यहीं पिछले सप्ताह 5 केस सामने आए थे। ऐसे में 12 केस यहां मिल चुके है।

32 ऐसे शव, जिनकी मौत सुसाइड, हादसा या अन्य वजह से हुई, कोरोना पॉजिटिव पाए गए

एसएमएस अस्पताल में अब तक होने वाली 148 मौतों में से 32 ब्राट डेड यानी अस्पताल में मृत अवस्था में पहुंचे थे। ये 32 केस मृत्यु के बाद टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए थे। चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है कि है कि ब्राट डेड परिवार में न तो पहले और ना ही विभाग की ओर से सैंपल लेने पर किसी के भी जांच में पॉजिटिव नहीं निकला। इनमें जालूपुरा में रहने वाली 20 वर्षीया महिला थी, जिसने पति से कलह के बाद सुसाइड किया था। वह मौत के बाद पॉजिटिव निकली। इसी तरह, फागी थाने के एक एएसआई का ट्रांसपोर्ट नगर में सड़क हादसे में मौत हुई थी। वह भी पॉजिटिव आया था।

प्रदेश में आज रिकार्ड 17 मरीजों की मौत, 315 नए कोरोना संक्रमित केस

वहीं, बात यदि राजस्थान की करें तो गुरुवार सुबह चिकित्सा विभाग द्वारा जारी रिपोर्ट में 315 नए केस सामने आए। इसके अलावा पहली बार रिकार्ड 17 मरीजों की मौत हुई। इनमें सबसे ज्यादा 6 मौत भरतपुर में हुई। राजस्थान में संक्रमितों की संख्या 13857 हो गई है। यहां अब तक 330 मरीज दम तोड़ चुके है। 10742 मरीज रिकवर हो गए है। इनमें 10484 को डिस्चार्ज किया जा चुका है। ऐसे में अब कुल 2785 केस एक्टिव रहे है। जिनका उपचार चल रहा है।वहीं, 3960 प्रवासी राजस्थानी भी है, जो कि कोरोना संक्रमित पाए गए है। 

राजस्थान महामारी अध्यादेश में एक और अधिसूचना जारी की, दुकान संस्था के बाहर लगाना होगा पोस्टर

राज्य सरकार ने रोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए जन जागरूकता अभियान के तहत एक और बड़ा निर्णय लिया है। इस संबंध में राज्य के गृह विभाग के ग्रुप- 5 ने इस आशय की अधिसूचना जारी कर दी है। अब प्रदेश के सभी सरकारी और निजी कार्यालय, शॉपिंग मॉल्स, व्यवसायिक संगठन, शिक्षण संस्थान, बैंक, कारखाने, मंडी समेत सभी के मुख्य द्वार पर पोस्टर लगाना अनिवार्य कर दिया है। पोस्टर में कोरोना से बचाव के लिए जन जागरूकता का संदेश लिखा होना चाहिए। पोस्टर के प्रारूप में लिखना होगा कि कोरोना से बचाव के उपाय अपनाएं, मास्क पहने, दो गज की दूरी बनाएं। गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरूप के हस्ताक्षर से जारी आदेश के अनुसार सरकार ने कोरोना से बचाव के लिए यह कदम उठाया है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here