Home Madhya Pradesh Jabalpur News In Hindi : 78 workers reached Seoni, were kept in...

Jabalpur News In Hindi : 78 workers reached Seoni, were kept in Quarantine Center, here in Balaghat, when the laborers got off the bus, they walked on foot. | सिवनी पहुंचे 78 मजदूर क्वारेंटाइन सेंटर में रखे गए, इधर बालाघाट में मजदूरों को बस से उतारा तो पैदल चल दिए

109
0

[ad_1]

दैनिक भास्कर

Mar 30, 2020, 06:34 PM IST

सिवनी। जिले में भोपाल, इंदौर और छिंदवाडा से आज पहुंचे 78 मजदूरों को शासकीय कोरोनटाइन सेंटर ओबीसी हॉस्टल में रखा गया। अनुविभागीय दंडाधिकारी जे पी सैयाम ने बताया कि सिवनी पहुंचे महिला-पुरूषों एवं बच्चों की कोरोना संबंधी जांच जिला चिकित्सालय में करवा दी गयी है। आज भोपाल इंदौर एवं छिंदवाड़ा में कार्यरत लगभग 78 मजदूर सिवनी पहुंचे है, जिन्हें ओबीसी हॉस्टल में कोरोनटाईन सेंटर में रखा गया हैं।

सारे मजदूर सिवनी जिले के लखनादौन, धनौरा, बरघाट व घंसौर विकासखंड अंतर्गत विभिन्न ग्रामों के निवासी हैं, जो कि रोजगार पाने के लिए सिवनी जिले से पलायन कर गए हुए थे। जो कि कोरोन वायरस के संक्रमण के चलते रोजगार बंद होने की स्थिति में अपने गृह ग्राम की ओर वापस लौट रहे है। कलेक्टर प्रवीण सिंह अढायच ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए आज से अन्य प्रदेशों, जिले एवं अन्य क्षेत्रों से सिवनी जिले में आने वाले व्यक्तियों को 14 दिन शासकीय कोरोनटाइन सेंटर में रखा जाएगा। उन्हें किसी भी स्थिति में उनके घर जाने की अनुमति नही दी जायेगी। जिले में 3 कोरोनटाइन सेंटर वन विद्यालय लखनादौन,वन चेतना केंद्र खवासा कुरई एवं ओबीसी हॉस्टल बनाये गए हैं।

सिवनी प्रशासन ने रोकी बालाघाट से निकली मजदूरों की बस, पैदल ही चल पड़े मजदूर: बालाघाट में प्रशासन द्वारा मजदूरों को पिछले 3 दिन में जांच कर उनके गंतव्यो की ओर रवाना किए गए 3500 मजदूरो और छात्रो में से लगभग 100 को आज सिवनी और दूसरे जिले की सीमाओं से लौटा दिये जाने के कारण वे फिर से बालाघाट आ गए। इनमें से कुछ श्रमिक जहां जिला मुख्यालय में बने क्वारेंटाइन सेंटर में हैं। वही लगभग 50 से अधिक श्रमिक बिना रूके पैदल ही अपने गंतव्य की ओर रवना हो गये।

आज सुबह ही सिवनी होते हुए दूसरे प्रांतो के लिये निकली एक बस को सिवनी के समीप से लौटाये जाने के बाद उसमें सवार कोई आधा सैकड़ा से अधिक मजदूर पैदल ही नागपुर की सीमा की ओर रवाना होते देखे गये। इस दौरान प्रशासन द्वारा सिवनी भेजे गये वाहन के चालक से पुलिस द्वारा  सिवनी में मारपीट कर भगा जाने  की जानकारी दी है जबकि उसके पास कलेक्टर बालाघाट का  परिवहन का अनुमति पत्र था। वाहन चालक सिवनी के निवासियों को उतार कर अन्य सभी लोगों को जो हैदराबाद आदि जाना चाह रहे थे उनको वापस लेकर बालाघाट आ गया है। 

[ad_2]

Source link

Previous articleIndore News In Hindi : Indore Coronavirus News: Indore Corona Virus Lockdown Latest News Updates Rush Of Locals to Buy Milk | इंदौर में डेयरी खुलने के पहले ही लगी भीड़, सोशल डिस्टेंसिंग भूल दूध लेने दौड़े लोग
Next articleTokyo Olympics rescheduled to July 23-August 8 in 2021

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here