• लॉकडाउन के बाद पहली बार निकले थे, पति के कूल्हे का तीन साल पहले ऑपरेशन हुआ था
  • ऑपरेशन के बाद से पति काम नहीं कर पाते थे, पति जल्द स्वस्थ हो जाए, इसलिए पत्नी उन्हें सहारा देकर घुमा रहीं थीं

दैनिक भास्कर

Jun 24, 2020, 07:23 PM IST

इंदौर. लॉकडाउन के बाद पहली बार टहलने निकले दंपती को मंगलवार रात तेजगति कार ने टक्कर मार दी। हादसे में पत्नी की मौत हो गई, वहीं पति को भी चोट आई। महिला एक निजी स्कूल में टीचर थीं। 

लसूड़िया पुलिस के अनुसार घटना मंगलवार रात 8.15 बजे स्कीम नंबर 78 स्थित बावड़ी वाले हनुमान मंदिर के सामने हुई। मृतका सरिता (40) पति चंद्रपालसिंह निवासी राजीव आवास विहार हैं। यहीं रहने वाले उदयपाल सिंह ने बताया सरिता उनकी बहू थी, जबकि जख्मी हुए चंद्रपालसिंह उनके छोटा भाई हैं।

चंद्रपाल के कूल्हे का तीन साल पहले ऑपरेशन हुआ था। तभी से वे काम करने की स्थिति में नहीं हैं। सरिता स्कूल पढ़ाने के बाद सिलाई-कढ़ाई का काम कर अपनी दो बेटियों और पति का सहारा थीं। पति जल्द स्वस्थ हो जाए, इसलिए सरित लाॅकडाउन पहले तक उन्हें हाथ पकड़कर घुमाती थीं। लॉकडाउन में टहलने नहीं निकले, इसलिए पति को परेशानी होने लगी थी।

शहर अनलाॅक होने के बाद मंगलवार को पहली बार वे हाथ पकड़कर उन्हें टहला रही थीं कि पीछे से तेज रफ्तार आई कार ने उन्हें जोर से टक्कर मार दी। इससे पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पति दूर फिंका गए। घटना के बाद ड्राइवर रुका नहीं। हालांकि उदयपाल और लोगों ने कार का नंबर देख पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने कार जब्त कर ली।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here