• 57 नए मरीजों में से 13 मरीज ऐसे हैं जो इन 12 नए क्षेत्रों में रहते हैं
  • कंटेनमेंट हटने के बाद 6 क्षेत्रों में फिर पहुंचा कोरोना का संक्रमण

दैनिक भास्कर

Jun 18, 2020, 03:08 PM IST

इंदौर. शहर के जिन रहवासी क्षेत्रों और कॉलोनियों को कोरोना के कंटेनमेंट जोन से डिनोटिफाई किया गया था, वहां फिर से संक्रमण पहुंच गया है। इसके साथ शहर के 12 नए इलाकों में रहने वाले लोगों में भी कोरोनावायरस की पुष्टि हुई है। बुधवार रात आई रिपोर्ट में 57 नए मरीज मिलने से शहर में कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 4191 पर पहुंच गई है।

तीन दिन पहले आई रिपोर्ट में जहां कोरोना के मात्र 6 मरीज मिले थे, वहीं अब बुधवार रात आई रिपोर्ट में 57 मरीजों में संक्रमण की पुष्टि की गई है। इंदौर में कोरोना का कहर कम नहीं हुआ है और लगातार नए-नए क्षेत्रों से मरीज सामने आ रहे हैं। बहुत से क्षेत्र तो ऐसे हैं जो पहले कंटेनमेंट जोन घोषित थे लेकिन लंबे समय तक वहां कोरोना का मरीज नहीं मिलने से उन्हें डिनोटिफाइड कर दिया गया। अब वहां फिर से कोरोना का संक्रमण पहुंच गया है।

शहर के 12 नए क्षेत्रों में भी काेरोना ने दस्तक दे दी है। 57 नए मरीजों में से 13 मरीज ऐसे हैं जो इन 12 नए क्षेत्रों में रहते हैं। जहां कोरोना ने पहली बार दस्तक दी है उसमें मनभावन नगर, डकाच्या, भूरी टेकरी, एमआर-10 चौराहा, तिंछाफाल, सिमरोल, मां शारदा नगर, सुखदेव नगर, साधना नगर आदि शामिल है। हालांकि इन क्षेत्रों में एक-एक मरीज ही मिले हैं इसलिए अधिक घबराने की जरूरत नहीं है। 

सख्ती हटी तो फिर पहुंच गया संक्रमण
शहर की 6 क्षेत्र ऐसे हैं जो पहले कोरोनावायरस के कंटेनमेंट क्षेत्र थे। 21 दिनों तक यहां कोरोना का नया मरीज नहीं मिलने से इन क्षेत्रों को कंटेनमेंट क्षेत्र की सूची से डिनोटिफाइड कर दिया गया लेकिन अब यहां पुन: कोरोना का संक्रमण पहुंच गया है। इन क्षेत्रों में शिक्षक नगर, सुखदेव नगर, नंदन नगर, महावीर अपार्टमेंट, अंजनी नगर और गांधीनगर शामिल है। 

497 क्षेत्रों को कंटेनमेंट घोषित किया गया था
इंदौर में कोरोना का पहला मरीज मिलने के बाद से जिला प्रशासन ने 497 कंटेनमेंट एरिया बनाए थे। इन क्षेत्रों में आना व जाना पूरी तरह से बंद करवा दिया गया था, यहां रहने वाले लोगों के भी घरों से बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगाया गया था। 21 दिनों तक कोरोना का नया मरीज नहीं मिलने पर 190 कंटेनमेंट एरिया को डिनोटिफाई कर दिया गया था।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here