दैनिक भास्कर

May 28, 2020, 07:44 AM IST

हरदा. काेरोना महामारी के चलते जैन महिला परिषद ने भगवान के नाम मन की बात पत्र प्रतियोगिता कराई। इसमें महिलाअाें ने भगवान के नाम पत्र लिखे। पत्र बंद लिफाफे में महिला परिषद की अध्यक्ष के घर जमा कराए गए। जहां से पत्रों पर नंबर लिखकर निर्णायकाें काे भेजे गए। समाज की एक महिला ने पत्र में लाॅकडाउन की व्यथा भी बताई। इसमें उन्हाेंने लिखा कि मंदिर छूटा, दर्शन छूटे, छूटा पूजा-पाठ, कब प्रभु के दर्शन मिले, देख रहीं हूं बाट (राह)। प्रतियाेगी महिलाओं ने भगवान शांतिनाथ भगवान से संक्रमण से मुक्ति की प्रार्थना की।
एक अन्य महिला प्रतियाेगी ने लिखा है कि भगवान आपसे वर्तमान, भूत और भविष्य कुछ भी नहीं छिपा है। लाॅकडाउन में मन की शांति के लिए यह पत्र मैं आपकाे लिख रही हूं। काेराेना महामारी से लाेग एक मकान में सिमट कर रह गए हैं। इस खतरनाक बीमारी के कारण हजाराें, लाखाें गरीब महिला-पुरुष हजाराें मील पैदल चल रहे हैं। भूखे-प्यासे मजदूर सड़काें पर परेशान हैं। उन्हाेंने बीमारी और मजदूराें की समस्या के निराकरण के लिए प्रर्थना की है।
दिगम्बर जैन समाज महिला परिषद की अध्यक्ष साधना कटनेरा ने बताया कि बुधवार काे श्रुत पंचमी के दिन परिणाम घाेषित हुए। प्रतियोगिता में समाज की 28 महिलाओं ने हिस्सा लिया। प्रतियोगिता की घाेषणा समाज के वाट्सएप ग्रुप पर की गई।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here