दैनिक भास्कर

May 28, 2020, 08:06 AM IST

होशंगाबाद. इटारसी के हाजी मंजिल सहित अन्य हाॅटस्पाॅट एरिया से सैंपल नहीं लेने के कारण काेराेना संक्रमण बढ़ा था। पिपरिया में भी रेड जाेन इंदाैर से लाैटी वृद्ध महिला के सैंपल लेने में अफसर टालमटौल कर रहे हैं जबकि महिला के बेटी-दामाद संक्रमित पाए गए हैं। महिला के संपर्क में 36 से अधिक लाेग आए लेकिन इनके सैंपल नहीं लिए गए। माना जा रहा है कि ग्रीन जाेन में बने रहने के लिए पिछले 3 दिनों से जिले में एक भी सैंपल नहीं लिया गया। गेहूं परिवहन के लिए बाहर से आए ट्रक ड्राइवरों की स्क्रीनिंग भी नहीं हो रही है। 
सीएमएचओ डॉ. सुधीर जैसानी का तर्क है कि- शासन ने कोरोना टेस्ट लेने को लेकर नई गाइडलाइन बनाई है जिसमें लो रिस्क और हाई रिस्क दो कैटेगरी में बांटा है। महिला में कोरोना के लक्षण नहीं है। इस कारण लो रिस्क कैटेगरी में लिया है। अगर सर्दी खासी बुखार के लक्षण पाए जाते हैं तो सैंपल लेकर जांच होगी। अब गाइडलाइन बदल गई है, महिला होम क्वारेंटाइन है। 
वृद्धा के साथ आए युवक और उसके दोस्त आइसोलेट : तहसीलदार राजेश बोरासी ने बताया इंदौर से सराफा कारोबारी परिवार की वृद्धा के साथ पिपरिया आने वाले युवक और उसके दोस्तों को प्रशासन ने सरकारी अस्पताल में आइसोलेट किया है। बीएमओ डॉ. एके अग्रवाल ने बताया जिन तीन सदस्यों के खून की जांच में रिपोर्ट सामान्य है। स्वास्थ्य ठीक है। सर्दी खांसी बढ़ती है तो एक्स-रे कराएंगे।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here