• गृह मंत्रालय ने कहा कि कमेटी की सिफारिश के आधार पर ही दिल्ली के प्राइवेट अस्पतालों की सुविधाओं का रेट तय होगा
  • कमेटी ने सरकार से कहा है कि आइसोलेशन बेड के लिए हर दिन 8 हजार से 10 हजार का रेट तय किया जाए

दैनिक भास्कर

Jun 19, 2020, 03:39 PM IST

नई दिल्ली. प्राइवेट अस्पतालों में बेड का रेट तय करने के लिए बनी कमेटी ने शुक्रवार को गृह मंत्रालय को सिफारिश सौंप दी। गृह मंत्री अमित शाह ने 13 जून को यह कमेटी गठित की थी। गृह मंत्रालय ने कहा कि कमेटी की सिफारिश के आधार पर ही दिल्ली के प्राइवेट अस्पतालों की सुविधाओं का रेट तय होगा। प्राइवेट अस्पताल बेड के लिए 25 हजार से लेकर 54 हजार रु. तक वसूल रहे हैं। नई सिफारिशें लागू होने पर इससे आधी कीमत लगेगी।

नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल की अगुआई वाली इस कमेटी को सुनिश्चित करना है कि प्राइवेट अस्पतालों में 60% बेड कम कीमत पर उपलब्ध हो। इसे कोरोना जांच और इलाज के लिए भी कीमत तय करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

कमेटी की सिफारिश:

  • आइसोलेशन बेड के लिए हर दिन 8 हजार से 10 हजार रु. लिए जाएं।
  • बिना वेंटिलेटर के आईसीयू बेड के लिए हर दिन 13 से 15 हजार रु. कीमत हो।
  • वेंटिलेटर के साथ आईसीयू बेड लेने पर हर दिन 15 से 18 हजार रु. लिए जाएं। 

दिल्ली के 242 कंटेनमेंट जोन में सर्वे पूरा
गृह मंत्री अमित शाह के निर्देश के बाद दिल्ली में सर्वे का काम तेजी से किया जा रहा है। गुरुवार तक 242 कंटेनमेंट जोन सर्वे पूरा कर लिया गया। 15 जून से 17 जून के बीच दिल्ली में 27 हजार 263 सैंपल की जांच की गई। हर दिन 4 हजार से 5 हजार ज्यादा सैंपल की जांच हुई। अभी तक दिल्ली में 2.3 लाख लोगों की जांच की गई है। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here