• वैश्विक महामारी में लोगों को मास्क और सेनेटाइजर केवल शहर में ही वितरण नहीं किए जा रहे हैं

दैनिक भास्कर

Apr 26, 2020, 02:22 AM IST

अशोकनगर. वैश्विक महामारी में लोगों को मास्क और सेनेटाइजर केवल शहर में ही वितरण नहीं किए जा रहे हैं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी महिलाएं जरूरतमंदों के पास मास्क बनाकर नि:शुल्क उपलब्ध करा रही हैं। बड़ौनी में सात महिलाओं ने एक सप्ताह के अंदर दिन रात सिलाई मशीन से सात हजार मास्क न केवल बनाए बल्कि सहयोगियों के साथ मिलकर गांव-गांव और बड़ौनी कस्बा में घर घर जाकर वितरित कराए।
कोरोना महामारी से बचने के लिए चेहरे पर मास्क लगाना अति आवश्यक है। लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को मास्क आसानी से मिल नहीं रहे हैं। इसलिए गांव देहात में ज्यादातर लोग बिना मास्क लगाए ही घूमते हुए, काम करते हुए देखे जाते हैं। इन्हें नि:शुल्क मास्क उपलब्ध कराने के लिए बड़ौनी की सात महिलाओं ने बीड़ा उठाया है। नेहा पत्नी अभिषेक कांकोरिया, नीलेश पत्नी कृपाल सिंह बुंदेला, श्रद्धा पत्नी सुरेंद्र कांकोरिया, प्रियंका लाक्षाकार, प्राची लाक्षाकार, ज्योति कुशवाहा और आरती किरार ने घर पर ही सिलाई मशीन से डबल कोट के पांच हजार मास्क पिछले सात दिन में बनाकर तैयार किए और घर-घर जाकर जरूरतमंदों को वितरित किए।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here