• खून की कमी के बाद भी नाॅर्मल डिलीवरी से हुई बेटी, परिजन खुश
  • रानी की बच्ची को शुक्रवार को कर दिया जाएगा डिस्चार्ज

दैनिक भास्कर

May 29, 2020, 07:21 AM IST

ग्वालियर. सुपर स्पेशलिटी हाॅस्पिटल में पहली बार (24 मार्च को पहला पॉजिटिव केस मिलने के बाद) पिछले 24 घंटे में काेराेना संक्रमित दाे महिलाओं ने बेटियोें को जन्म दिया। बुधवार को मुरैना की महिला ने जिस बच्ची को जन्म दिया, उसके सैंपल की रिपाेर्ट निगेटिव आई है। गुरुवार को धौलपुर की महिला की ऑपरेशन से डिलीवरी की गई। बच्ची की रिपोर्ट शुक्रवार को आएगी। कोरोना पॉजिटिव महिलाओं की सफल डिलीवरी कराने पर डीन डॉ. एसएन अयंगर, जेएएच अधीक्षक डॉ. आरकेएस धाकड़ व डॉ. गिरिजाशंकर गुप्ता ने डॉक्टरों को बधाई दी।

खून की कमी के बाद भी नाॅर्मल डिलीवरी से हुई बेटी, परिजन खुश

मुरैना के अंबाह निवासी राजपाल की गर्भवती पत्नी 32 वर्षीय रानी को खून की कमी के कारण 26 मई को जेएएच रैफर किया गया था। यहां जांच करने पर उसे कोरोना संक्रमण होने की पुष्टि हुई। रानी को बुधवार को सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. प्रीति शर्मा और जूनियर डॉक्टर डॉ. शिवानी ने रानी की नॉर्मल डिलीवरी कराई। रानी ने 3 किलाेग्राम वजन की स्वस्थ बच्ची को जन्म दिया। जन्म के तत्काल बाद बच्ची को केआरएच में आइसोलेशन में रखा और उसका सैंपल लेकर कोरोना की जांच के लिए भेजा गया। गुरुवार को बच्ची की रिपोर्ट निगेटिव आई तो परिजन की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। रानी की बच्ची को शुक्रवार को डिस्चार्ज कर दिया जाएगा। 

पहली बार मां बनी काेराेना संक्रमित, सीजर से जन्मी बेटी
धौलपुर निवासी प्रदीप तोमर 24 वर्षीय गर्भवती पत्नी सोनम काे जांच में कोरोना होने की पुष्टि हुई थी। बुधवार रात उन्हें सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। गुरुवार को गायनिक की विभागाध्यक्ष डॉ. वृंदा जोशी के मार्गदर्शन में प्रोफेसर डॉ. नीलम, असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. राजकिशोरी दंडौतिया, जूनियर डॉक्टर डॉ. जाफिया, निश्चेतना के डॉ. अभिषेक गुप्ता और डॉ खुशबू द्वारा सीजेरियन किया गया, जिसमें सोनम ने बच्ची काे जन्म दिया। बच्ची का बजन 2 किलो 800 ग्राम है। सोमन को आईसीयू में रखा गया है। बच्ची को दादा-दादी को सौंपा है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here