• लॉकडाउन-4 में रियायतों के साथ शहर का हाइपर मार्केट शुरू
  • सेफ्टी के लिए किए कई बदलाव

दैनिक भास्कर

May 25, 2020, 07:44 AM IST

ग्वालियर. लॉकडाउन-4 में रियायतों के साथ शहर का हाइपर मार्केट भी शुरू हो गया है। हाइपर मार्केट पहुंचने वाले कस्टमर का अनुभव पहले की अपेक्षा इस बार पूरी तरह अलग है। एंट्री से पहले उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। वहीं बिना मास्क उन्हें एंट्री नहीं दी जा रही है, जिन कस्टमर के पास मास्क नहीं हैं उन्हें एंट्री गेट पर मास्क उपलब्ध कराए जा रहे हैं। एक बार में 5 से 10 कस्टमर्स को ही एंट्री दी जा रही है और अंदर सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे। इसके लिए सर्कल भी बनाए गए हैं। इन मार्केट में कई तरह के बदलाव किए गए हैं। साथ ही कुछ मार्केट में ट्रॉली को अनिवार्य कर दिया है, जिससे सोशल डिस्टेंसिंग बनी रही।  इस रिपोर्ट में जानिए किस तरह के बदलाव किए गए हैं। 

यह किए गए बदलाव

  • एक बार में 5 से 10 कस्टमर को दी जा रही है एंट्री। 
  • एंट्री से पहले प्रॉपर सैनिटाइजेशन और थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। 
  • कई बार धूप की वजह से भी बॉडी टेंपरेचर ज्यादा होता है। ऐसे में कस्टमर की 15 से 20 मिनट बाद दोबारा थर्मल स्क्रीनिंग होती है। अगर टेंपरेचर नॉर्मल होता है तो उन्हें एंट्री दी जाती है।
  • मार्केट के अंदर सोशल डिस्टेंसिंग के लिए सर्कल बनाए गए हैं। 
  • एक रॉ में एक बार में केवल दो ही लोगों को खड़े होने की परमिशन है। 
  • डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा दिया जा रहा है। अगर कोई कस्टमर कैश देता है तो उसे अलग पैकेट में रखा जाता है जिसे शाम को सैनिटाइज किया जाता है। 

मार्केट में यह बदलाव भी

  • अगर कोई कस्टमर सामान खुद नहीं उठाना चाहता है तो मार्केट के एंप्लोई उससे लिस्ट लेते हैं और पूरा सामान उसे ट्रॉली में भरकर देते हैं जो काउंटर पर पैक कर दिया जाता है। 
  • मार्केट के एंप्लोई की थर्मल स्क्रीनिंग, और हैंड ग्लव्स पहनना कंपलसरी है। 
  • सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे इसलिए एंप्लोई को भी अल्टरनेटिव वर्किंग के आधार पर बुलाया जा रहा है।
  • हर घंटे मार्केट के अंदर और बाहरी सरफेस को भी सैनिटाइज किया जाता है। 

फैक्ट फाइल

  • 08 से 10 बड़े हाइपर मार्केट हैं शहर में। 
  • 20 से 25 मीडियम स्तर के हैं।
  • 40 से 50 करोड़ का हर महीने टर्नओवर था लॉकडाउन से पहले।

महेश गुलबानी, ऑनर आनंद प्लाज़ा : यह सावधानी रख रहे हैं
गाइडलाइंस के मुताबिक मार्केट में कस्टमर्स को एंट्री दी जा रही है। अगर कोई कस्टमर बिना मास्क के आता है, तो उसे हम मास्क प्रोवाइड कराते हैं। अगर कोई कस्टमर सामान खुद नहीं उठाना चाहता है तो एम्प्लॉयी उसे सामान देते हैं। 
रवि खत्री, ऑनर रावलदास ने कहा- बनाए गए हैं सर्कल
कस्टमर की सेफ्टी के लिए हर लाइन में सर्कल बनाए गए हैं और एंट्री से पहले उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। एक बार में 5 से 6 लोगों को ही एंट्री दी जा रही है, ताकि अंदर प्रॉपर सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here