• Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi
  • Family Members Scolded For Education, Kishor Came To Ranchi After Escaping From Maharashtra, RPF Handed Over To Child Line

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रांची7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
Family members scolded for education, Kishor came to Ranchi after escaping from Maharashtra, RPF handed over to Child Line | ​​​​​​​घरवालों ने पढ़ाई के लिए डांटा तो माहाराष्ट्र से भाग कर रांची आया किशोर, RPF ने चाइल्ड लाइन को सौंपा

परजनों को फोन के जरिए नागपुर सूचना दे दी गई है। वे शनिवार को आकर किशोर को अपने साथ ले जाएंगे।

RPF ने महाराष्ट्र के एक बच्चे को हटिया स्टेशन से पकड़कर चाइल्डलाइन रांची को सौंप दिया है। वह महाराष्ट्र के नागपुर से अपने घर से भागकर यहां आ गया था। इसकी सूचना पहले ही RPF को दे दी गई थी। दरअसल लड़के को उनके घर वाले ने पढ़ाई के लिए डांटा था। इससे नाराज होकर बच्चा भागकर नागपुर रेलवे स्टेशन पहुंच गया था। यहां वो नागपुर स्टेशन से पुणे हटिया स्पेशल ट्रेन में सवार हो गया था। उसके परिजनों ने सीसीटीवी कैमरे अभिभावक किशोर को खोजते नागपुर रेलवे स्टेशन पहुंचे, तो वहां सीसीटीवी के जरिए पता चला कि किशोर पुणे हटिया स्पेशल ट्रेन में सवार हुआ है।

RPF हटिया को दी गई थी जानकारी
इसके बाद आरपीएफ ने हटिया रेलवे स्टेशन के आरपीएफ पोस्ट के अधिकारियों को सूचना दी। सूचना मिलने के बाद आरपीएफ के अधिकारी सक्रिय हुए और पुणे हटिया रेलवे स्टेशन परपहुंचते ही रेलवे स्टेशन पर सर्च अभियान चलाकर किशोर को बरामद कर लिया।आरपीएफ कर्मियों ने पूछताछ के बाद किशोर को रांची चाइल्डलाइन के हवाले कर दिया है।
अभिभावकों को दे दी गई है सूचना
किशोर के अभिभावकों को फोन के जरिए नागपुर सूचना दे दी गई है। अभिभावक शनिवार को आकर किशोर को अपने साथ ले जाएंगे। किशोर महाराष्ट्र के अकोला के हदगांव जुनी बस्ती का रहने वाला है। किशोर का मन पढ़ाई में नहीं लगता था। इसीलिए घरवाले उसे पढ़ाई के लिए डांटते थे।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here