Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हिसार41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
Demand raised for starting ventilators lying closed in civil hospital and for oxygenation of hospitals | सिविल अस्पताल में बंद पड़े वेंटिलेटर शुरू कराने और अस्पतालों काे ऑक्सीजन सुचारू करने की उठाई मांग
  • पार्षद अमित ग्रोवर, न्यू राजगुरु मार्केट व बिश्नाेई मंदिर मार्केट प्रधान राजेन्द्र सीएमओ से मिले

सिविल अस्पताल में बंद वेंटिलेटर को शुरू करवाने व कोविड अस्पतालों को ऑक्सीजन की सप्लाई सुचारू करने के लिए पार्षद अमित ग्रोवर व न्यू राजगुरु मार्केट व बिश्नाेई मंदिर मार्केट प्रधान राजेन्द्र चुटानी ने सीएमओ रतना भारती से मिलकर जवाब मांगा। उन्हाेंने सीएमओ से पूछा कि आखिर ये क्याें नहीं चलाए जा रहे।

इस मामले काे लेकर उन्हाेंने अतिरिक्त उपायुक्त अनीश यादव से भी मुलाकात की। उन्होंने इन वेंटिलेटर को जल्द शुरू करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि शहर में कोरोना के चलते लोग मर रहे हैं, शहरवासियों को ऑक्सीजन बेड नहीं मिल रहे। इसके अलावा मरीज सीरियस होने पर वेंटिलेटर के लिए अस्पताल के बाहर दम तोड़ रहे हैं। सिविल अस्पताल में वेंटिलेटर बंद पड़े हैं। उन्हाेंने मांग की है कि तत्काल प्रभाव से वेंटिलेटर शुरू किया जाए। कुल 14 वेंटिलेटर हैं, इनमें से करीब आधे वेंटिलेटर नहीं चल रहे हैं।

सीएमओ डॉ. रत्ना भारती ने कहा कि वेंटिलेटर के लिए मॉनिटर नहीं हैं जिसके कारण वह अभी चलाए नहीं जा सकते। इस पर पार्षद ने कहा कि इन वेंटिलेटर के मॉनिटर व अन्य उपकरण के लिए राशि स्वीकृत भी हो गई है जो एडीसी द्वारा जारी करनी थी। इस मामले पर उन्हाेंने एडीसी से मिलकर उनसे वह राशि सिविल अस्पताल को जारी कर दिल्ली की एजेंसी से मॉनिटर उपलब्ध करवाकर इंस्टॉल करवाने का आग्रह किया। पार्षद ने मांग की है कि ऑक्सीजन उपलब्ध न होने के कारण शहर के लोग गम्भीर स्थिति में हैं।

पार्षद व प्रधान ने कहा कि ऑक्सीजन न होने के कारण प्राइवेट अस्पताल कोरोना के मरीजों को दाखिल न करने पर मजबूर हैं। उन्हें पर्याप्त ऑक्सीजन की सप्लाई दी जाए व किसी भी कोविड सेंटर बनाये गए अस्पताल के ऑक्सीजन खत्म होने पर वहां दाखिल मरीज को सिविल अस्पताल में दाखिल करवाना प्रशासन की जिम्मेवारी है

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here