Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

होशंगाबादएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • सामाजिक संगठन और युवाओं की टीम आगे आकर कर रही कोरोना मरीजों की मदद

जिले में कई परिवार ऐसे हैं जिनके प्रत्येक व्यक्ति संक्रमित हो गए हैं । ग्रामीण क्षेत्रों के मरीजों के परिजन अस्पताल के बाहर रहकर अपने परिजन के ठीक होने का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे लोगों की मदद के लिए शहर के कुछ सामाजिक संगठन और युवा आगे आए हैं। बहुत से ऐसे लोग हैं, जिन्होंने अपने जन्मदिन का आयोजन ना कर कोरोना संक्रमितों की मदद के लिए सामान जुटाए हैं।

वहीं कुछ ऐसे भी लोग हैं जो अपने परिजनों की मृत्यु पर मृत्यु भोज आयोजन ना कर कोरोना संक्रमित और उनके परिजनों के लिए भोजन व अन्य सामग्री जुटाकर दे रहे। ऐसे बहुत से व्यक्ति हैं जिन्होंने संक्रमितों और परिजनों की मदद के लिए अपना हाथ आगे बढ़ाया है।

जिले में वृद्धजनों, दिव्यांगजनों एवं जरूरतमंदों को घर बैठे पहुंचाई जा रही सहायता

हाेशंगाबाद| कोरोना संक्रमण के बीच लाेगाें को तनाव, परेशानी में मदद करने के इंतजाम जिले में किए हैं। जिले में वृद्धजन, दिव्यांग एवं जरूरतमंदों को घर बैठे हर जरूरी सहायता पहुंचाए जाने के लिए प्रयास किया जा रहा है। कलेक्टर धनंजय सिंह के नेतृत्व में वृद्धजन दिव्यांग एवं जरूरतमंदों को सहायता पहुंचाने के लिए अभियान शुरू किया है।

इसके लिए नोडल अधिकारी बनाए गए हैं। जानकारी के अनुसार होम आइसोलेट रोगियों को चिकित्सा काउंसिलिंग 75 वृद्धजनों को वीडियो कॉल से चिकित्सा परामर्श, रेफरल एवं मेडिकल किट पहुंचाई है। 35 वृद्धाें को कोविड केयर सेंटर में भर्ती कराया गया है। टेक होम राशन एवं जरूरी वस्तुएं घर बैठे पहुंचाई जा रही हैं। यह काम डिस्ट्रिक्ट कोविड कमांड एंड कंट्रोल 1075 एवं कोविड कंट्रोल सेल. 7566770063 से संपर्क कर सहायता एवं चिकित्सा परामर्श ले रहे हैं।

ज्ञानोदय कोविड सेंटर से अभी तक 40 मरीज हुए स्वस्थ
कोरोना संक्रमित मरीजों को त्वरित और बेहतर इलाज हर स्तर पर विशेष प्रयास किए जा रहें है। सभी विकासखंडों में कोविड केयर सेंटर बनाए गए हैं। शहर के बीटी आई रोड स्थित ज्ञानोदय आवासीय विद्यालय में कोविड केयर सेंटर बनाया है। कोविड केयर सेंटर पर एसिंप्टोमेटिक कोविड मरीजों के लिए ऑक्सीजन एवं आवश्यक दवाओं के इंतजाम है। साथ ही मरीजों के लिए जनसहयोग से भाप मशीन एवं मनोरंजन की सामग्रियां भी उपलब्ध करवाई हैं। तहसीलदार शहर निधी चौकसे ने बताया कि कोविड केयर सेंटर ज्ञानोदय पर मरीजों को समय पर दवाइयां एवं उच्च गुणवत्ता युक्त भोजन की व्यवस्था है। कोरोना से पूरी तरह स्वस्थ होने अभी तक 40 मरीजों को डिस्चार्ज किया है।

दूसरे शहरों में रहकर भी कर रहे लोगों की मदद
इंदौर निवासी राहुल वर्मा ने बताया कि वह मूलत होशंगाबाद के रहने वाले हैं और पिछले 20 सालों से इंदौर में रह रहे हैं। उन्हें पता लगा कि शहर में कोरोना संक्रमण इधर बहुत तेजी से बढ़ रही है। तब उन्होंने सोशल मीडिया पर संक्रमितों के लिए काम करने वाले लोगों को अपने से जोड़ा। अब इसके लिए वे एक पेज तैयार कर रहे हैं, ताकि मदद करने वाले लोगों को सोशल मीडिया के माध्यम से मदद मिल सके। उन्होंने बताया कि अब तक उनके पास करीब 20 से 40 फोन कॉल आ चुके हैं जिनके लिए भोजन व अन्य सामान की व्यवस्था उन्होंने शहर के समाजसेवियों के माध्यम से कराई।

जन्मदिन और सालगिरह पर यह भोजन वितरण

शहरवासी हंस चिमनिया ने बताया कि 1 मई को उनकी विवाह वर्षगांठ थी, इस अवसर पर उन्होंने समाजसेवी संस्थाओं की मदद से सोना सिंह के बर्ताव के लिए भोजन सामग्री व फल आदि का वितरण कराया वहीं 3 मई को उनके छोटे भाई के जन्मदिन के अवसर पर भी उन्होंने फल भोजन का वितरण कराया। उनका कहना है कि इस कार्य से लॉकडाउन में लोगों की मदद हो जाती है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here