• मोदी ने पांच अप्रैल की शाम नौ बजे 9 मिनट के लिए घर की बत्ती बुझाकर दीये जलाने की अपील की है
  • पिछली बार भी पीएम ने ताली थाली बजाने की अपील की थी, लोगों ने ऐसा कर उनका पूरा साथ दिया था

दैनिक भास्कर

Apr 05, 2020, 02:11 PM IST

कोरोना के खिलाफ जंग. उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस का असर तेजी से फैलता जा जा रहा है। प्रधानमंत्री ने पांच अप्रैल की शाम नौ बजे लोगों से दीये जलाने की अपील की तो अचानक दीयों की मांग बढ़ गई। कुम्हार दीये बनाने में जुटे हुए हैं। वहीं इनकी बिक्री भी शुरू हो गई है। इसको लेकर कई जिलों में बड़े पैमाने पर पिछले दो दिनों से दिये बनाए जा रहे हैं। इन दीयों को लोग आज शाम को 9 बजे 9 मिनट के लिए जलाएंगे। 

आगरा रोड स्थित प्रजापति कॉलोनी के कई घरों में दो दिन से तेजी से चाक घूम रहे हैं। दिवाली पर 25 से 30 रुपये सैकड़ा में बिकने वाले दीपक अब 50 रुपये सैकड़ा में बिक रहे हैं। सर्वेश कुमार पांडेय ने बताया क प्रजापति बताते हैं कि आमतौर पर दिवाली पर ही दीपकों की मांग होती थी। दो दिन पहले प्रधानमंत्री की अपील के बाद दीयों की मांग में तेजी आई है। इसके चलते तेजी से दीपक बनाए जा रहे हैं।

वहीं मुरादाबाद में भी कुम्हार दीयों की डिमांड को देखते हुए पिछले दो दिनों से दीये तैयार कर रहे हैं। इसको लेकर स्थानी निवासी निधि पराशर ने कहा कि सभी लोग अपने घरों में दीये जरूर जलाएं। लॉकडाउन के दौरान लोगों में दीयों की जगमग एक नए प्रकाश का संचार करेगी। हम जरूरी कोरोना को हराएंगे। वहीं विमल कुमार ने कहा कि शाम को हर घर में दीपक जलाए जाने के पीछे प्रधानमंत्री जी का उद्देश्य कहीं न कहीं ऊर्जा संरक्षण का भी है। इसलिए सभी लोग बिजली बंद कर दीये जलाएं।

लखनऊ में मोहल्ले में से लेकर गांव में बिक रहे दिए:

पीएम मोदी की मुहिम में शामिल होने के लिए एक रुपय का एक 60 रुपये सैकड़ा के हिसाब से दीयों की बिक्री लखनऊ शहर और गांव में हाो रही है। फुटकर में खरीदने वालों की संख्या ज्यादा है। पांच से 10 दिये खरीदने वालों की संख्या ज्यादा है। हुसैनगंज में मिट्टी के दुकानदार दुर्गेश प्रजापति ने बताया दिये बिक रहे हैं सुबह से अभी तक सौ से ज्यादा दिए बिक चुके हैं। वही काकोरी के दौली खेड़ा गांव में बड़े पैमाने पर मिट्टी का काम होता है। यहां से ही शहर को आपूति की जाती हैं। स्थानीय नागरिक आलोक कश्यप ने बताया दिए बिक रहे हैं कल रात से दुकानदार दिए खरीदने यहां आए थे। 

हमें 5 अप्रैल को अपनी महाशक्ति का जागरण करना है -मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कोरोनावायरस के खिलाफ जंग को लेकर देशवासियों को एक वीडियो मैसेज दिया था. उन्होंने अपने मैसेज में 5 अप्रैल को रात 9 बजे मोमबत्ती और दीया जलाने का आह्वान किया था। मोदी ने कोरोना संकट पर अपने तीसरे संबोधन में कहा था- हमें 5 अप्रैल को अपनी महाशक्ति का जागरण करना है, ताकि लॉकडाउन के दौरान घरों में मौजूद लोग खुद को अकेला महसूस न करें। वहीं, भारतीय सेना ने सलाह दी है कि दीया जलाते वक्त अल्कोहल बेस्ड सैनेटाइजर इस्तेमाल न करें। इससे आग लगने का खतरा है। हाथ धोने के लिए साबुन ही इस्तेमाल करें। केंद्रीय ऊर्जा मंत्रालय ने लोगों से कहा है कि रात 9 बजे सिर्फ लाइट बंद रखें, पंखा, फ्रिज, एसी जैसे बाकी उपकरण चलने दें।

जनता-कर्फ्यू के दिन 22 मार्च को ताली थाली बजाने की अपील की थी

कोरोना वायरस को लेकर राष्ट्र के नाम संबोधन में पीएम नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से एक खास अपील की है। पीएम मोदी ने जनता-कर्फ्यू के दिन 22 मार्च को ऐसे सभी लोगों के समर्थन की अपील की थी जो जोखिम उठाकर आवश्यक कामों में लगे हैं, इस महामारी से लड़ने में मदद कर रहे हैं। हालांकि 22 मार्च रविवार को ठीक 5 बजे लोग अपने घर के दरवाजे पर खड़े होकर, बालकनी-खिड़कियों के सामने खड़े होकर पांच मिनट तक ताली-थाली बजा कर उन लोगों के प्रति कृतज्ञता जाहिर की थी, जो कोरोना से बचाने में हमें लगे हैं।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here