• दिल्ली से रांची पहुंचे यात्रियों ने बताया कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए एयरपोर्ट पर काफी तैयारियां की गई है
  • दिल्ली से रांची एयरपोर्ट पहुंचे यात्रियों के हाथ पर होम क्वारैंटाइन की मुहर लगा उन्हें 14 दिनों तक इसका पालन की हिदायत दी गई

दैनिक भास्कर

May 25, 2020, 02:18 PM IST

रांची. देशव्यापी लॉकडाउन के बीच सोमवार से घरेलू उड़ाने शुरू कर दी गई। ऐसे में बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर कोरोना संक्रमण से लड़ने की पूरी तैयारी देखी गई। एयरपोर्ट के अंदर जाने के दौरान यात्रियों को हाथ सैनिटाइज करवाए गए। उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की गई। इसके बाद ही उन्हें अंदर प्रवेश करने दिया गया। इसके साथ ही बाहर से रांची आने वाले यात्रियों के हाथ पर होम क्वारैंटाइन की मुहर लगा उन्हें 14 दिनों तक इसका पालन की हिदायत दी गई।

कई यात्रियों ने तो सुरक्षा के दृष्टिकोण से पीपीई किट पहन कर यात्रा किया। दिल्ली से रांची आने यात्रियों ने बताया कि कोरोना संक्रमण की वजह से अब बहुत कुछ बदल चुका है। खास तौर पर सोशल डिस्टेंस का पालन करना बेहद जरूरी हो गया है।

एयरपोर्ट के बाहर भी सोशल डिस्टेंस का पालन कराने की तैयारी की गई है। तीन कुर्सियों में से बीच वाली पर क्रॉस का साइन लगा दिया गया है। ताकि दो लोगों के बीच बैठने के दौरान दूरी बनी रही। वहीं, एयरपोर्ट आने और यहां से जाने वाले यात्रियों को वाहन की व्यवस्था खुद करनी पड़ी।

इंडिगो की फ्लाइट से दिल्ली से रांची पहुंची रामगढ़ की रहने वाली प्राची ने बताया कि कई जगहों पर लोग ही सावधानी बरतते नजर नहीं आए। जैसे बोडिंग पास प्रिंट होने वाली जगह, बैठने व मास्क और फेस शीट देने वाली जगहों पर लोगों ने भीड़ कर दी।

रांची की रहने वाली अनुपमा ने बताया कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर एयरपोर्ट पर काफी बदलाव दिखा। एयरपोर्ट में प्रवेश करने के साथ ही जांच शुरू हो गई। सोशल डिस्टेंस का बहुत ख्याल रखा गया। अंदर बैठने के दौरान मास्क व फेस शीट पहनना अनिवार्य था। लाइन लगने पर भी एक-दूसरे से उचित दूरी बनाकर खड़ा होना है। अगर किसी को रांची से बाहर जाना है तो उन्हें एक फॉर्म भरना पड़ा। 

हैदराबाद की फ्लाइट पकड़ने के लिए एयरपोर्ट पर पहुंचे विजय ने बताया कि वे टाटानगर से आए हैं। सीआरपीएफ में जॉब करते हैं और चार माह बाद छुट्‌टी मिली है। इसके बाद वो अपने घर जा रहे हैं। फ्लाइट शुरू होने से उन्हें काफी खुशी है।

रांची के रहने वाले अमनदीप ने बताया कि दिल्ली व रांची दोनों ही एयरपोर्ट पर काफी बदलाव दिखा। भाई के ऑपरेशन के लिए दिसंबर में दिल्ली गया था और लॉकडाउन में वहीं फंस गया था। अब वो खुश हैं कि अपने घर आ गए।

एयरपोर्ट पर सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिए फर्श पर निशान बनाया गया। ताकि लोग उचित दूरी के साथ खड़े हो सके।

रांची के रहने वाले शेखर सुमन ने बताया कि कोरोना संक्रमण को खत्म करने के लिए लॉकडाउन होना जरूरी था। उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट पर लाइन में लगाकर सभी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई। सबसे पूछा गया कि उन्हें रांची से बाहर जाना है या नहीं। जिन्हें जाना था, उन्हें फॉर्म भरना पड़ा। 

रांची की रहने वाली रिया ने बताया कि सारी व्यवस्था अच्छी थी। प्लेन के अंदर ग्लब्स, मास्क और फेस शीट पहनकर बैठना था। कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए एयरपोर्ट पर काफी तैयारी की गई है। सोशल डिस्टेंस के साथ ही प्लेन में भी इसका पालन करना पड़ा। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here