• लॉकडाउन 4.0 लागू होने के बाद मप्र में मंत्रिमंडल विस्तार की धीमी पड़ी कवायद फिर गति पकड़ने लगी है
  • मंत्री पद के कई दावेदार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और वरिष्ठ नेताओं से मिल रहे हैं

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 09:14 AM IST

भोपाल. लॉकडाउन 4.0 लागू होने के बाद मप्र में मंत्रिमंडल विस्तार की धीमी पड़ी कवायद फिर गति पकड़ने लगी है। मंत्री पद के कई दावेदार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और वरिष्ठ नेताओं से मिल रहे हैं। इसके बाद सीएम ने उन्हें संकेत दिए हैं कि वे खुद चाहते हैं कि 31 मई से पहले मंत्रिमंडल विस्तार हो जाए, लेकिन इसमें राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा की सहमति लगेगी। प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा इसकी पहल कर सकते हैं। 

भाजपा से संकेत मिलने के बाद सिंधिया गुट उपचुनाव की तैयारी में जुट गया है। शिवराज कैबिनेट में अभी सिंधिया खेमे से तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत ही मंत्री बने हैं। प्रभुराम चौधरी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, इमरती देवी, महेंद्र सिंह सिसोदिया और राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव बाकी हैं। इसके अलावा कांग्रेस से भाजपा में आए बिसाहूलाल सिंह, एंदल सिंह कंसाना, हरदीप डंग और रणवीर जाटव भी मंत्री बन सकते हैं। बाकी पूर्व विधायकों ने पिछले दो दिनों में मुख्यमंत्री से मुलाकात करके करीब डेढ़ हजार करोड़ रुपए के काम बता दिए हैं। उधर, इमरती देवी और प्रद्युम्न सिंह तोमर शनिवार को मुख्यमंत्री और प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं से मिले। भाजपा में मंत्री पद के दावेदार अरविंद भदौरिया भी शाम को पार्टी दफ्तर पहुंचे।

दिल्ली चाहती है लॉकडाउन 4.0 पूरा होने तक रुका जाए
केंद्रीय संगठन की ओर से लॉकडाउन 4.0 लागू होने के तीन दिन बाद कहा गया था कि इसमें ज्यादा वक्त नहीं है। 31 मई को चौथा चरण पूरा हो जाएगा, इसके बाद परिस्थितियां सामान्य हो जाएंगी, तब जून के पहले सप्ताह में मंत्रिमंडल विस्तार किया जा सकता है। दिल्ली के इस संकेत के बाद के हालातों को देखते हुए प्रदेश संगठन ने फिर पहल करते हुए ताजा स्थितियों का हवाला देकर कहा है कि मंत्रिमंडल विस्तार पहले किया जा सकता है।  



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here