• रमजानों के लिए बोहरा समाज के लिए गाइड लाइन जारी, मस्जिद में 5 से ज्यादा लोग नहीं करेंगे इबादत
  • धर्मगुरुओं ने लोगों से अपील की, पवित्र माह में ज्यादा से ज्यादा गरीबों की मदद करें, आपका कोई पड़ोसी भूखा न रहे 

दैनिक भास्कर

Apr 24, 2020, 06:08 PM IST

गुना. पवित्र माह रमजान की इबादत, सहरी और इफ्तार में इस बार सब कुछ बदला हुआ होगा। पहली बार मस्जिदों में सामूहिक इबादत नहीं होगी। रमजान की विशेष नमाज यानी तरावीह घरों पर होगी? मस्जिदों में सिर्फ प्रतीकात्मक रूप में 5 से ज्यादा लोग नमाज में शामिल नहीं होंगे। बोहरा समाज का पहला रोजा गुरुवार को हुआ। इफ्तार सामूहिक न होकर घरों पर ही किया गया। बोहरा समाज के लिए मुंबई मुख्यालय से ही एक जैसा मीनू के लिए गाइड लाइन जारी कर दी। इस संकट की घड़ी समाज के 110 परिवारों हर घर में एक जैसी सामग्री भेजी गई है, ताकि लॉकडाउन का पालन करते हुए एक माह पूरा इबादत में निकाले।

मुस्लिम समाज ने भी घरों पर ही रमजान के सारे अरकान पूरा करने का फैसला लिया है, जिससे सामाजिक दूरी बनी रहे और लोगों के संपर्क में आने से बचा जा सके। धर्म गुरुओं ने भी लोगों से अपील की है वह इस पवित्र माह में ज्यादा से ज्यादा गरीब लोगों की मदद करें, यह देखें कि आपका कोई पड़ोसी है तो वह भूखा न रहे। 

110 परिवार के यहां एक जैसी खाद्य सामग्री भेजी
बोहरा समाज ने एक माह के लिए पूरा मैन्यू जारी कर दिया है। पहले मस्जिद में ही सामूहिक भोज होता था लेकिन यह बंद रहेगा। 110 परिवारों में मुंबई की गाइड लाइन के आधार पर 21 तरह की खाद्य सामग्री भेजी है। जिसमें आटा, दाल, चावल, सब्ज़ी, बिस्किट, टोस्ट, शहद, शर्बत, चीनी, ड्रॉय फ्रूट्स सहित हर चीज़ों में शामिल किए गए हैं बोहरा समाज के धर्म गुरु डाॅक्टर सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन साहब द्वारा जारी गाइड लाइन अनुसार ही सभी सामग्री हर घर में भेजी जा चुकी है। पूरे विश्व में बोहरा समाज में एक ही तरह का मैन्यू रमजान में हर घर में तैयार किया जाएगा। 

घर पर ही इबाबत करेंगे बोहरा समाज 

मुस्लिम समाज और बोहरा समाज रमजान माह में घरों में ही इबादत करेंगे। मस्जिदों में सिर्फ प्रतीकात्मक रूप से इबादत होगी। बोहरा समाज की धार्मिक व सामाजिक गतिविधियों का संचालन स्मार्ट फोन पर एप और प्रत्यक्ष जुड़ाव से हो रहा है। घरों में ही इबादत होगी। वहीं पूरे विश्व में प्रति दिन रात 9.45 बजे ऑनलाइन मजलिस में में लोग घर बैठे शामिल होंगे। 

शहर काजी ने किया जंत्री का विमोचन
मुस्लिम समाज की तरफ से शहर काजी नूरउल्ला युसुफजई ने रमजान की तैयारी को लेकर दिशा-निर्देश जारी किए हैं। लोगों से कहा है कि घरों पर ही इबादत करें। मस्जिदों में सिर्फ जिस तरह वर्तमान में प्रतीकात्मक रूप से इबादत हो रही है, वैसे ही होगी। 5 से ज्यादा लोग नमाज नहीं पढ़ेंगे। विशेष नमाज तरावीह भी लोग अपने घरों में ही अदा करें।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here