• बीते दिनों पूर्व प्रधान ओमपाल गुट व ऋषिपाल गुट के बीच गोलीबारी हुई थी
  • घटना की सूचना मिलते ही डीआईजी लव कुमार जांच के लिए मौके पर पहुंचे

दैनिक भास्कर

May 02, 2020, 07:27 PM IST

बागपत. कोरोनावायरस के संक्रमण के कारण लॉकडाउन के बाद भी अपराध की गतिविधियां कम नहीं हो रही हैं। बागपत जिला जेल में शनिवार को दिन में बंदियों के बीच बवाल में एक ऋषिपाल की हत्या कर दी गई। बवाल में आधा दर्जन से अधिक घायल हैं। इस बीच डीजी जेल आनंद कुमार ने कहा है कि डीआईजी जेल लव कुमार को जांच के लिए तत्काल मौके पर भेजा जा रहा है जांच की रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्यवाही तय की जाएगी।

जेल में बंदियों के दो गुटों में संघर्ष में ऋषिपाल पर साथी बंदियों ने चम्मचों से हमला बोल दिया। खूनी संघर्ष में नुकीले चम्मचों के हमले से घायल ऋषिपाल ने दम तोड़ दिया। अन्य घायलों का जेल के अस्पताल में इलाज चल रहा है। ऋषिपाल पर नुकीली वस्तु से ताबड़तोड़ प्रहार किया गया था। दो गुटों के संघर्ष में घायल अमित पुत्र सुरेशपाल जौनमाना गांव का रहने वाला है।

बीते दिनों पूर्व प्रधान ओमपाल व ऋषिपाल पक्ष के बीच गोलीबारी हुई थी। इसी मामले में दोनों पक्ष के एक दर्जन लोग बंद थे। बागपत जिला जेल में शनिवार को दिन में बंदियों के बीच बवाल में ऋषिपाल की हत्या कर दी गई। बवाल में आधा दर्जन से अधिक घायल हैं। 

जिला कारागार में हुई थी मुन्ना बजरंगी की हत्या 

इससे पहले बागपत जिला जेल में माफिया मुन्ना बजरंगी की हत्या की अभी सीबीआई जांच जारी है, इसी बीच शनिवार को यहां एक और बंदी की हत्या को अंजाम दिया गया है। बागपत जेल में बंदी की हत्या से यहां की सुरक्षा व्यवस्था की पोल खुल गई है। मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद बागपत जेल में आज एक बार फिर से हत्या की सनसनीखेज वारदात को अंजाम दिया गया है। बागपत जेल में बंद कुख्यात सुनील राठी ने पेशी पर आए मुन्ना बजरंगी की हत्या कर दी थी। अब इस मामले की सीबीआई जांच चल रही है। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here