• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • At Her Expense, The Headmistress Made Two Girls Fly By Air, The Girls Said That They Did Not Even Think About It In Their Dreams.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टोंक14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
At her expense, the headmistress made two girls fly by air, the girls said that they did not even think about it in their dreams. | अपने खर्च पर प्रधानाध्यापिका ने दो बालिकाओं को कराई हवाई यात्रा, बच्चियां बोलीं ऐसा तो सपने में भी नहींं सोचा था

प्रधानाध्यपिका उमा हाड़ा के साथ विष्णु और पूजा यादव।

सरकार बालिका शिक्षा को प्रोत्साहन देने के लिए कई योजनाओं का संचालन करती रही है, लेकिन राज्य में ये पहला ही मौका है कि कोई प्रधानाध्यापिका अपने खर्च पर बालिका शिक्षा को प्रोत्साहित करने का बीड़ा उठाए नजर आ रही है।

टोंक जिले के जवाली गांव में बालिकाओं को शिक्षा में आगे बढाने के लिए प्रधानाध्यापिका उमा हाड़ा ने अपने ही तरीके से पहल की। उमा हाडा ने गत वर्ष बालिकाओं के अध्ययन में पूरी लगन व मेहनत का परिचय देते हुए उनमें अच्छे अंक लाने के लिए प्रेरित किया। साथ ही छात्राओं से वादा किया कि वो 85 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाली छात्राओं को हवाई यात्रा करवाएंगी तथा 75 से अधिक अंक लाने वाली छात्राओं को 1100-1100 रुपए नकद पुरस्कार देंगी।

वादा पूरा करते हुए शुक्रवार को बालिकाओं के साथ जयपुर से उदयपुर हवाई यात्रा की। साथ ही इस यात्रा के दौरान होने वाला खर्च वह स्वयं ही वहन कर रही है। उल्लेखनीय है कि राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय जवाली की कक्षा 12 की दो छात्राओं ने गत सत्र में 85 से अधिक अंक प्राप्त किए। जो दोनों बहने हैं।

पूजा यादव ने 93.40 व विष्णु यादव ने 87.60 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं। दोनों बहनों एवं अपने स्टाफ के साथ उमा हाड़ा शुक्रवार को जयपुर से उदयपुर की यात्रा के लिए रवाना हुई। उमा हाड़ा का कहना है कि जिन छात्राओं को वो अपनी तरफ से हवाई जहाज की यात्रा करा रही हैं वे आगे चलकर हवाई जहाज उड़ाएं। छात्राएं भी प्रधानाध्यापिका द्वारा यात्रा कराए जाने से काफी खुश थीं। उन्होंने कभी हवाई जहाज पास से भी नहीं देखा। अब वो उसमें बैठकर यात्रा कर पाईं। उन्होंने कहा ऐसा तो सपने में भी नहीं सोचा था।

उमा हाडा ने ये की थी घोषणा
अपने स्कूल की बालिका में शिक्षा के प्रति प्रोत्साहित करने के लिए प्रधानाचार्य उमा हाड़ा ने एक छोटी सी पहल शुरू की थी। उसके तहत उन्होंने वादा किया था कि 2019-20 में कक्षा 10 वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में राज्य में प्रथम आने वाली छात्रा को 21 हजार, द्वितीय आने वाली को 11 हजार, जिला स्तर पर प्रथम आने वाले को 51 सौ एवं द्वितीय आने वाली को 21 सौ रुपए दिए जाने की घोषणा की थी। 80 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले एक श्रेणी में से एक को 1100 रुपए नकद, आठवीं बोर्ड में जिला स्तर पर प्रथम को 31 सौ, द्वितीय को 21 सौ रुपए दिए जाने की घोषणा की थी। दो छात्राएं हवाई यात्रा के लिए चयनित हुईं।

(रिपोर्ट: एम. असलम)

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here