• लॉकडाउन के दौरान 30 लाख से ज्यादा प्रवासी श्रमिक दूसरे राज्यों से पलायन कर उत्तर प्रदेश लौटे हैं
  • शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने कहा- प्रवासी मजदूरों को यूपी सरकार घुसने नहीं दे रही, अमानवीय व्यवहार हो रहा है

दैनिक भास्कर

May 25, 2020, 07:28 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को कहा है कि हम प्रवासी मजदूरों राज्य में ही रोजगार देने की व्यवस्था करेंगे। एक कमीशन का गठन किया जाएगा, जो मजदूरों को यूपी में ही रोजगार दिलवाने में मदद करेगा। योगी ने यह भी कहा कि अगर कोई हमारे प्रवासी मजदूरों को अपने यहां काम देना चाहता है, तो उसे पहले यूपी सरकार की मंजूरी लेनी होगी। हालांकि, योगी ने यह नहीं बताया कि यूपी सरकार ने ऐसी क्या योजना बनाई है, जिसके तहत दूसरे राज्यों को मंजूरी और लॉकडाउन खुलने के बाद रोजगार के लिए प्रवास करने वालों लाखों मजदूरों पर नजर रखी जाएगी।

प्रवासी मजदूरों पर महाराष्ट्र-यूपी आमने-सामने
शिवसेना के मुखपत्र सामना के संपादकीय में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तुलना हिटलर से की गई है। सामना के संपादक और शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि यूपी में मजदूरों को वापस नहीं घुसने दिया जा रहा है। उनके साथ अमानवीय व्यवहार किया जा रहा है।

इस पर योगी ने ट्वीट कर कहा- एक भूखा बच्चा ही अपनी मां को ढूंढता है। अगर महाराष्ट्र सरकार ने ‘सौतेली मां’ बनकर भी सहारा दिया होता तो महाराष्ट्र को गढ़ने वाले हमारे उत्तर प्रदेश के निवासियों को वापस न आना पड़ता।

24 घंटे में कोरोना के 254 केस सामने आए, 11 की मौत हुई
राज्य में बीते 24 घंटे में 254 पॉजिटिव केस सामने आए। अब संक्रमितों की संख्या 6268 हो गई है। राज्य में इस बीमारी से 161 लोगों की मौत हुई है। 3538 मरीज ठीक हो चुके हैं। यानी अब तक 56.6% मरीज ठीक हो चुके हैं। 2569 का इलाज चल रहा है। अब तक 1569 प्रवासी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं जो कि कुल मरीजों का 25.3% हैं।

कानपुर और आगरा में 2-2 की मौत
कानपुर, आगरा में 2-2, बस्ती, बिजनौर, अलीगढ़, फिरोजाबाद, संतकबीरनगर, देवरिया और कुशीनगर में एक-एक मरीज की मौत हुई है। अभी तक पूरे प्रदेश में 2 लाख 29 हजार 621 लोगों के सैम्पल जांच के लिए लैब भेजे गए, इसमें से 2 लाख 17 हजार 867 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इसके अलावा, 1012 सैंपल की जांच रिपोर्ट आना बाकी है।

यह तस्वीर वाराणसी की है। यहां लाट सरैयां क्षेत्र में एडीएम सिटी, एसपी सिटी और अन्य ने मार्च किया और शांति-सद्भाव से ईद बनाने की अपील की।

इन जिलों में 254 नए मरीज मिले

नोएडा में 21, वाराणसी में 18, अमरोहा में 16, मेरठ और देवरिया में 15-15, रामपुर और लखीमपुर खीरी में 12-12, गोंडा में 11, गाजियाबाद में 10 संक्रमित मिले हैं। आजमगढ़, भदोही में 9, हापुड़, बरेली में 8-8, फिरोजाबाद में 7, आगरा, जौनपुर, बिजनौर, मुजफ्फरनगर, कन्नौज और कानपुर में 6-6, अलीगढ़, संभल, बस्ती, गोरखपुर, फतेहपुर, हरदोई और महोबा में 5-5 मरीजों की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई है। उन्नाव में 4, सहारनपुर, बुलंदशहर, मथुरा और मुरादाबाद में 3-3, लखनऊ, बहराइच, प्रयागराज, अंबेडकरनगर, बदायूं, बलरामपुर, बागपत, कासगंज और सोनभद्र में 2-2 संक्रमित हैं। वहीं, सिद्धार्थनगर, कौशांबी, जालौन, शामली, इटावा, अमेठी, महाराजगंज, झांसी, मिर्जापुर, चंदौली, मऊ, कानपुर देहात, कुशीनगर, शाहजहांपुर, फर्रूखाबाद में एक-एक मरीज मिले।  

50% कर्मचारियों के साथ सरकारी ऑफिस खुले

राज्य में आज से सरकारी ऑफिस खोल दिए गए। हालांकि, अभी 50% कर्मचारियों को बुलाने का निर्णय लिया गया है। अभी तक रोस्टर के अनुसार, 33% कर्मचारियों को ही ऑफिस बुलाया जा रहा था। सरकार ने तीन शिफ्ट में कामकाज करने की अनुमति दी है। पहली शिफ्ट सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक, दूसरी शिफ्ट सुबह 10 से शाम 6 बजे तक और तीसरी शिफ्ट 11 बजे से शाम 7 बजे तक होगी। 

उत्तर प्रदेश के श्रमिक चाहिए तो राज्य सरकार से अनुमति लेनी होगी

दूसरे राज्यों से पलायन कर उत्तर प्रदेश लौटै श्रमिकों को लेकर योगी सरकार ने बड़ा फैसला किया है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश में माइग्रेशन कमीशन बनाने के निर्देश दिया है। यह आयोग प्रवासी श्रमिकों को न सिर्फ रोजगार देगा, बल्कि सामाजिक सुरक्षा भी सुनिश्चित करेगा। मुख्यमंत्री ने कहा है कि अगर अब कोई राज्य उत्तर प्रदेश के प्रवासी श्रमिकों को वापस बुलाना चाहता है तो उसे राज्य सरकार की अनुमति लेनी होगी। मुख्यमंत्री ने अफसरों को प्रवासियों को कम किराए पर घर उपलब्ध कराने, बीमा कराने, बैंक खाते खुलवाने, राशन किट अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराने का निर्देश दिए हैं। 

आज से घरेलू उड़ान शुरू, 1 जून से पुष्पक और लखनऊ मेल भी चलेंगी
देशभर में आज से घरेलू उड़ान शुरू हुईं हैं। उत्तर प्रदेश सरकार ने निर्देश दिया है कि फ्लाइट्स से आने वाले यात्रियों को 14 दिनों के लिए क्वारैंटाइन रहना होगा। उधर, 1 जून से लखनऊ जंक्शन से पुष्पक एक्सप्रेस और लखनऊ मेल स्पेशल ट्रेन, जबकि चारबाग से गोमती एक्सप्रेस शुरू हो जाएगी। यात्रियों को ट्रेन छूटने से 90 मिनट पहले स्टेशन आना होगा। मोबाइल पर आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोट करना होगा।

लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर यात्रियों की जांच करते कर्मचारी। फ्लाइट से आने वाले यात्रियों को 14 दिन क्वारैंटाइन रहना होगा।

अस्पतालों में सर्जरी और जांच शुरू, ओपीडी अभी नहीं

सरकारी अस्पतालों में सर्जरी और जांच समेत कई आवश्यक सेवाएं आज से शुरू हो गईं। हालांकि, अभी ओपीडी शुरू नहीं की गई है। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन ने बताया कि यह सेवाएं जिला अस्पताल, महिला अस्पताल, संयुक्त चिकित्सालय के साथ सीएचसी, निजी अस्पतालों के लिए शुरू की जा सकेंगी। इस दौरान कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करना अनिवार्य होगा।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here