Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायगढ़36 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
50 in KIT, 57 started oxygen beds in medical college | केआईटी में 50, मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन वाले 57 बेड शुरू
  • हर दिन 1000 ऑक्सीजन सिलेंडर्स की खपत, उद्योगों ने संभाला मोर्चा, प्रशासन ने 9 वेंटिलेटर्स मंगाए, 10 जल्द आएंगे

केआईटी बिल्डिंग में 50 और मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन सप्लाई वाले 57 बेड शुरू किए गए हैं। इससे जिले में संक्रमितों को बड़ी राहत मिली है। हालांकि संक्रमितों की संख्या देखते हुए संख्या और बढ़ानी होगी। मेडिकल कॉलेज के की 57 ऑक्सीजन बेड वाली नई यूनिट में गंभीर मरीजों का इलाज किया जा सकेगा।

यहां अब कुल 177 ऑक्सीजन सप्लाई वाले बेड हो गए हैं। शनिवार तक जिले में बेड की कमी से परेशानी बनी हुई थी। फिलहाल 107 बेड (ऑक्सीजन वाले) शुरू होने से राहत मिलेगी। केआईटी के प्रभारी नीतिराज सिंह ने बताया कि यहां अब शुरू किए गए 50 बेड के अलावा ऑक्सीजन वाले 50 और बेड शुरू किए जाएंगे। यहां हल्के लक्षण वाले ऐसे मरीजों को रखा जाएगा जिनका ऑक्सीजन लेवल 90 तक हो, जो दवा से ठीक हो सकें। अभी जिले में 13 हॉस्पिटल में कोविड मरीजों का इलाज चल रहा है, लेकिन बेड की कमी से मरीजों और उनके परिजन को परेशान होना पड़ रहा है।

हर दिन 1000 सिलेंडर की खपत
कलेक्टर भीम सिंह ने बताया, जिले में ऑक्सीजन सप्लाई वाले बेड्स पर्याप्त हैं। हफ्तेभर के भीतर बेड और बढ़ाएंगे। जिले में ऑक्सीजन की कमी नहीं है। उद्योगों से पर्याप्त सिलेंडर मिल रहे हैं। दूसरी लहर के मरीजों में ऑक्सीजन की कमी है इससे हर रोज एक हजार सिलेंडर की खपत है। इसके साथ ही रविवार को 9 वेंटिलेटर्स मंगाए गए हैं। 10 के ऑर्डर पर डिलीवरी जल्द होगी। अभी वेंटिलेटर पर शिफ्ट करने वाले मरीजों की संख्या कम है, घबराने की जरूरत नहीं है।

रेमडेसिविर की किल्लत बनी समस्या
सोशल मीडिया पर रेमडेसिविर इंजेक्शन आने की खबर देखकर ग्रामीण महिला सुबह से शाम तक रेडक्रॉस मेडिकल स्टोर के बाहर बैठी रही। महिला के पति कोरोना संक्रमित हैं और गंभीर हालत में फोर्टिस जिंदल अस्पताल में भर्ती हैं। थोड़ी-थोड़ी देर में महिला पूछती रही…भैया इंजेक्शन हो तो दे दो। ऐसे लोग हर अस्पताल के आसपास दिख रहे हैं। रेमडेसिविर की कमी से फेफड़ों में संक्रमण वाले मरीज परेशान हैं। कंपनी से सप्लाई नहीं होने के कारण लोगों को यह दवा नहीं मिल रही है। आमतौर पर एक मरीज को 4 से 6 इंजेक्शन लगती है लेकिन जिन्हें मिल रही है उन्हें 2 से ज्यादा नहीं मिल रही है। रविवार को 200 वायल आने की बात कही गई थी लेकिन शाम तक दवा आई नहीं।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here