Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ग्वालियर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
1157 new corona infected in Gwalior on Sunday, 4 killed, condition very bad | ग्वालियर में रविवार को मिले 1157 नए कोरोना संक्रमित, 17 की मौत, हालत बेहद खराब, 600 रेमडेसिविर इंजेक्शन आए

इस तरह लोगों को जागरूक कर रहे क�

  • CM ने प्रदेश में 30 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू बढ़ाने की घोषणा की है
  • ग्वालियर में भी 22 अप्रैल के बाद बढ़ेगा कोरोना कर्फ्यू

ग्वालियर में बीते तीन दिन में हर दिन एक हजार से ज्यादा नए संक्रमित निकले हैं। लगातार संक्रमण फैलता जा रहा है। रविवार को भी जिले में 1157 नए कोरोना संक्रमित सामने आए हैं। जो एक दिन में अभी तक के सबसे ज्यादा संक्रमित हैं। इसके साथ ही कुल संक्रमित का आंकड़ा 27672 पर पहुंच गया है। साथ ही रविवार को 17 संक्रमित की उपचार के दौरान मौत भी हुई है। इनमें से 9 ग्वालियर के हैं। शेष अन्य जिलों के हैं। 17 मौत के साथ जिले में अभी तक कुल मौत 370 तक पहुंच गई हैं। प्रदेश में लगातार हालात बेकाबू होने कारण प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह ने पूरे प्रदेश में 30 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू बढ़ाने की घोषणा की है। ग्वालियर में अभी 22 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू है। साथ ही रविवार को ग्वालियर में भोपाल से 600 रेमडेसिविर इंजेक्शन भी आए हैं।

पूरे देश के साथ मध्य प्रदेश में भी कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप जारी है। हर दिन हजारों की संख्या में नए संक्रमित मिले रहे हैं। भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर जैसे महानगरों में हालात और भी ज्यादा खराब हैं। यहां ऑक्सीजन सिलेंडर, रेमडेसिविर इंजेक्शन की खपत बढ़ गई है और इनकी कमी से सरकार परेशान है। लगातार संक्रमित मिलने का सिलसिला जारी है। भोपाल, इंदौर, जबलपुर की तरह ही ग्वालियर में भी स्थिति बेहद खराब है। हर दिन के साथ मौत का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। ग्वालियर में तीन दिन पहले तक कुल संक्रमित का आंकड़ा 24 हजार पर था, लेकिन तीन दिन में यह 27 हजार से ऊपर निकल गया है। कोरोना संक्रमण की यह स्पीड बताती है कि इस समय माहौल कितना खतरनाक हो गया है। हर दिन के साथ मौत का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। इसी तरह संक्रमण बढ़ता गया तो जल्द ही जिले में कोविड बेड कम पड़ जाएंगे। अस्पतालों में पैर रखने तक की जगह नहीं बचेगी।

ग्वालियर एयरपोर्ट से रेमडेसिविर इंजेक्शन के कार्टन बाहर लाते स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी

ग्वालियर एयरपोर्ट से रेमडेसिविर इंजेक्शन के कार्टन बाहर लाते स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी

खतरनाक होते आंकड़े

रविवार को 2649 लोगों के सैंपल की रिपोर्ट आई है, इनमें से 1157 नए संक्रमित निकले हैं। इसके बाद कुल आंकड़ा 27672 हो गया है। सोमवार के लिए 1958 सैंपल भेजे गए हैं। रविवार तक कुल एक्टिव केस बढ़कर 6398 हो गए हैं। रविवार को 70 से ज्यादा स्थानों पर माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए हैं। अभी तक कुल सैंपलिंग 3 लाख 89 हजार 823 हो गई है। संक्रमण की दर लगातार बढ़ती जा रही है। रविवार को ग्वालियर के 9 सहित कुल 17 संक्रमित की मौत हो गई है। जिसके बाद कुल मौत का आंकड़ा 370 पर पहुंच गया है। रविवार को राहत की बात यह रही है कि 419 संक्रमित ठीक होकर डिस्चार्ज किए गए हैं। अभी तक कुल 19334 डिस्चार्ज हो चुके हैं।

इनकी हुई मौत

रविवार को कुल चार मौत हुई हैं। इनमें 53 वर्षीय आजिमा बानो पत्नी बनने खां निवासी श्योपुर की मौत हुई है। यह 13 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव निकली थीं। साथ ही 60 वर्षीय अनिल कपूर पुत्र कैलाश कपूर निवासी शंकरपुर ग्वालियर की मौत हुई है। यह 8 अप्रैल को संक्रमित हुए थे और तभी से अस्पताल में भर्ती थे। इसके अलावा कमला त्यागी निवासी ग्वालियर की मौत हुई है। यह दो दिन पहले ही संक्रमित आई थीं। सभी का अंतिम संस्कार कोरोना गाइडलाइन से लक्ष्मीगंज मुक्तिधाम में किया गया है।

विशेष विमान से आए 600 रेमडेसिविर इंजेक्शन

कोरोना संक्रमितों के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन की पूर्ति के लिए प्रदेश सरकार युद्ध स्तर पर प्रयास कर रही है। रविवार को भोपाल से विशेष विमान से 600 रेमडेसिविर इंजेक्शन ग्वालियर पहुंचाए गए हैं। अब इनको ग्वालियर जिले के स्टोर में रखवा दिया गया है। अब यह इंजेक्शन निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत निजी अस्पतालों को भी उपब्लध कराए जाएंगे।

MRP से अधिक रेट चार्ज करने पर होगी कार्रवाई

रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी और आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर ग्वालियर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने इस इंजेक्शन के लिए निर्देश जारी किए हैं। कलेक्टर ग्वालियर ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि जिस MRP पर डीलर से अस्पताल वाले यह इंजेक्शन खरीद रहे हैं उसी रेट पर मरीज को भी मिले। यदि कोई भी हॉस्पिटल के MRP से ज्यादा रेट चार्ज करता है तो उसके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here